अमेरिकी अर्थव्यवस्था को मिलेगा 1.9 ट्रिलियन डॉलर का बूस्टर डोज

0
173

राहत पैकेज अमेरिकी संसद में पास

वॉशिंगटन (एजेंसी)। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस (कोविड-19) से गंभीर रूप से जूझ रहे अमेरिका में अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए संसद के निचले सदन हाउस आॅफ रिप्रेजेंटेटिव ने 1.9 ट्रिलियन डॉलर का राहत पैकेज देने के प्रस्ताव को पारित कर दिया है। इस प्रस्ताव पर अब संसद का उच्च सदन सीनेट भी विचार कर रहा है। सीनेट में इस प्रस्ताव पर विचार करने को लेकर मतदान हुआ, जिसमें 51-50 के अंतर से इसे स्वीकार कर लिया गया। उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने अपना वोट प्रस्ताव के पक्ष में डालकर उसे आगे बढ़ाया। आगामी कुछ दिनों में इस प्रस्ताव के पारित होने की पूरी उम्मीद है। डेमोक्रेटिक पार्टी के बहुमत वाले सदन हाउस आॅफ रिप्रेजेंटेटिव ने पिछले सप्ताह ही इस प्रस्ताव को 219-212 के अंतर से पारित कर दिया था।

गौरतलब है कि अमेरिका के नव-निर्वाचित राष्ट्रपति जो बाइडन ने कोरोना महामारी से अमेरिकी अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए 1.9 ट्रिलियन डॉलर के पैकेज का ऐलान किया था। इस प्रस्ताव को ‘अमेरिकन रेस्क्यू प्लान’ नाम दिया गया। इसके तहत, कोरोना संकट से प्रभावित हुए अमेरिकी परिवारों और कारोबारियों को राहत देने की कोशिश होगी। इसके तहत अधिकतर अमेरिकियों को सीधे 1400 डॉलर (करीब 102,258 रुपए) की आर्थिक मदद दी जाएगी। इसके अलावा, बेरोजगारी भत्ता प्रति हफ्ते 300 डॉलर से बढ़ाकर प्रति हफ्ते 400 डॉलर कर दिया गया। मौजूदा समय में पूरी दुनिया में कोविड वायरस का सबसे ज्यादा शिकार अमेरिका ही हुआ है। जिसकी वजह से अमेरिकी अर्थव्यवस्था को भारी नुक्सान हुआ। अमेरिकी चुनाव में भी जो बाइडेन इस मुद्दे को प्रमुखता से उठाया, जिसके बल पर वे अमेरिकी राष्टÑपति बने।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।