इंजेक्शन लगने के बाद महिला की मौत, परिजनों ने जमकर किया हंगामा

Mirapur
Mirapur इंजेक्शन लगने के बाद महिला की मौत, परिजनों ने जमकर किया हंगामा

मीरापुर।(सच कहूं/ कोमल प्रजापति) ग्राम चुडियाला निवासी एक महिला की उपचार के दौरान इंजेक्शन लगने के बाद अचानक मृत्यू हो गई। महिला की मृत्यू होने पर परिजनो ने क्लीनिक पर जमकर हंगामा किया। सूचना मिलने पर मीरापुर, रामराज व जानसठ की पुलिस भी मोके पर पहुंच गई तथा मृतक महिला का शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया। मृतका के परिजनो ने थाने में पोस्टमार्टम न कराने के लिए हंगामा किया।

मीरापुर थाना क्षेत्र के ग्राम चुडियाला निवासी लक्ष्मी पत्नी प्रमोद उम्र 45 वर्ष की शाम चार बजे अचानक तबीयत खराब हो गई। परिजन तुरंत महिला को मीरापुर के पडाव चौक स्थित डा. के पी सिंह के क्लीनिक पर उपचार के लिऐ ले आये। क्लीनिक पर तैनात सहायक चिकित्सक ने बिना जांच पडताल के जल्दबाजी में बीमार महिला को इंजेक्शन लगा दिया। इंजेक्शन लगते ही महिला की हालत बिगड गई और उसके मूंह से झाग निकलने लगे। कुछ ही देर में महिला की क्लीनिक पर ही मृत्यू हो गई। मृत्यू होने पर मृतका महिला के परिजनो ने क्लीनिक पर हंगामा शुरू कर दिया। हंगामे की सूचना पर पुलिस घटनास्थल पर पहुंच गई।

हंगामें की बढती स्थिति को देखते हुए थानाध्यक्ष दिनेश चन्द्र बघेल ने जानसठ व रामराज पुलिस को मौके पर बुला लिया तथा पुलिस ने महिला महिला के शव का पंचनामा भर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना की सूचना मिलने पर क्षेत्राधिकारी जानसठ राम आशीष यादव तथा उपजिलाधिकारी सुबोध कुमार सिंह थाना मीरापुर में पहुंचे तथा घटना की जानकारी ली। महिला की मृत्यू की सूचना मिलते ही सैकडो ग्रामीण थाने में पहुंच गये तथा पोस्टर्माटम के लिए गई महिला के शव को वापस मंगाने की मांग करने लगे। पुलिस व उच्चाधिकारियों ग्रामीणो को समझा बुझाकर शांत किया। पुलिस ने पूछताछ के लिए क्लीनिक के कर्मचारी को हिरासत में ले लिया है।

मीरापुर क्षेत्र में अप्रशिक्षित चिकित्सको बडी संख्या ने अपने क्लीनिक खोल रखे हैं आये दिन इन क्लीनिको पर अप्रशिक्षित चिकित्सक मरीजो की जान से खिलवाड कर रहे हैं। कई मरीजो की गलत उपचार के चलते मृत्यू भी हो चकी है। उधर कुकुरमुत्तो की तरह अवैध अस्पतालो की भरमार भी कस्बे में हो रही है इन अस्पतालो पर भी आये दिन गलत उपचार के चलते मरीज मौत के मूंह में जा रहे हैं। जनता द्वारा शिकायत करने पर भी स्वास्थ्य विभाग कुम्भकर्णी नींद सोया हुआ है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here