शोषण के खिलाफ प्रदर्शन पर उतरे नैशनल पहलवान

बजरंग पुनिया और विनेश फोगाट समेत कई पहलवानों ने जंतर-मंतर पर किया प्रदर्शन

नई दिल्ली। (सच कहूँ न्यूज) देश के शीर्ष पहलवानों ने भारतीय कुश्ती महासंघ के अध्यक्ष बृजभूषण सरन सिंह के खिलाफ बुधवार को जंतर मंतर पर विरोध प्रदर्शन किया। पहलवानों ने उन पर महिला खिलाड़ियों के यौन शोषण का आरोप लगाया। इस मामले पर पहलवान विनेश फोगाट का कहना है कि जब तक अध्यक्ष नहीं बदला जाता तब तक धरना जारी रहेगा। बृजभूषण सिंह बीजेपी सांसद भी हैं। भारतीय पहलवान और ओलंपियन विनेश फोगाट का कहना है कि महिला पहलवान को कई तरह की परेशानी होती है, कुश्ती के अध्यक्ष ने महिला खिलाड़ियों का शोषण किया है।

फेडरेशन खिलाड़ियों पर जबरदस्ती बैन लगाती है जिससे खिलाड़ी न खेल सके। किसी भी खिलाड़ी को कुछ होता है तो उसके जिम्मेदार कुश्ती संघ के अध्यक्ष होंगे। जंतर मंतर पर हुए इस विरोध प्रदर्शन में ओलंपिक खेलों में विजेता खिलाड़ी साक्षी मालिक और बजरंग पुनिया जैसे खिलाड़ी शामिल रहे। करीब दो दर्जन पहलवान धरने पर बैठे।

बजरंग पुनिया ने क्या कहा?

बजरंग पुनिया ने कहा कि कुश्ती को दलदल से बचाना चाहते हैं, खिलाड़ियों को प्रताड़ित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि एक दो दिन पहले नियम बनाए जाते हैं जो खिलाड़ियों पर थोप दिए जाते हैं। एसोसिएशन के अध्यक्ष ही कोच और रेफरी की भूमिका निभाते हैं, बुरा व्यवहार करते हैं। इतना ही नहीं प्रायोजक टाटा मोटर्स से मदद नहीं मिलती, खिलाड़ी असहाय महसूस करते हैं और शिकायत करने पर उल्टा खिलाड़ियों पर कार्रवाई की जाती है। विनेश फोगाट ने आरोप लगाते हुए कहा कि नेशनल कैंप में फेडरेशन के खास कोच महिला खिलाडियों का यौन शोषण करते हैं। शिकायत के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं होती। अध्यक्ष भी कई महिला खिलाड़ियों का शोषण कर चुके हैं। लखनऊ में कैंप लगाया जाता है ताकि अपने घर में शोषण कर सकें, हमारी निजी जिंदगी में दखल देते हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here