राशन कार्ड कटने से खफा ग्रामीणों ने डिपो को जड़ा ताला

परेशानी: सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस

  • शनिवार को गांव करसोला की महिला-पुरूषों ने काफी देर तक मचाया हंगामा

जुलाना (सच कहूँ न्यूज)। जुलाना क्षेत्र के गांव करसोला में राशन काटने को लेकर डिपो को ताला लगा दिया। डिपो को ताला लगाए जाने की सूचना पाकर जुलाना पुलिस मौके पर पहुंची और ग्रामीणों को समझाने का प्रयास किया। लेकिन ग्रामीण नहीं माने। शनिवार को गांव करसोला की महिलाओं और पुरूषों ने गांव के बस अड्डे पर स्थित राशन डिपो पर काफी देर तक हंगामा मचाया। उसके बाद ग्रामीण महिलाओं ने डिपो को ताला जड़ दिया। डिपो को ताला जड़ने और राशन वितरित नहीं करने की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और स्थिति का जायजा लिया।

यह भी पढ़ें:– इनकम ठीक करवाने के लिए दर-दर भटक रहा परिवार

वहीं ग्रामीणों महिलाओं ने बताया कि वे दिहाड़ी मजदूरी का कार्य करती हैं और उनके गुलाबी कार्ड बने हुए थे। लेकिन अब उनके गुलाबी राशन कार्ड को काट दिया गया हैं और पीले राशन कार्ड बना दिए हैं। ग्रामीणों ने यह भी बताया कि जिन लोगों के पीले राशन कार्ड बने हुए थे उन्हें भी काट दिया गया हैं। ग्रामीणों ने बताया कि उनकी सालाना आय 40 हजार से 50 हजार भी नहीं हैं। क्योंकि कभी उन्हें दिहाडी मजदूरी का काम मिलता हैं और कभी नहीं।

उसके बाद भी उनके गुलाबी राशन कार्ड काटें गए हैं और जिनके आय का साधन दो लाख से भी ज्यादा हैं उनके गुलाबी और पीले कार्ड बनाए गए हैं। ऐसे में परिवार पहचान पत्र में बिना किसी वेरिफिकेशन के ही आय ज्यादा दिखाकर बीपीएल से बाहर करने का काम किया जा रहा हैं। ग्रामीणों ने प्रशासन को साफ चेताया कि अगर उनके कार्ड गुलाबी नहीं बनाए गए तो वे गांव के डिपो में राशन नहीं बटने देंगे और डिपो के बाहर अनिश्चितकालीन धरना शुरू कर देंगे।

गांव में मजदूरी का काम करने वाले गरीब लोगों के राशन कार्ड बिना किसी कारण के ही काट दिए गए हैं जोकि ग्रामीणों के साथ अन्याय हुआ हैं। जिला फूड सप्लाई अधिकारी से बात की गई तो उन्होंने बताया कि वे एडीसी कार्यालय में जाकर अपनी वार्षिक आय को वेरिफाई करवाएं। उसके बाद ही ग्रामीणों के गुलाबी और पीले राशन कार्ड बनाए जाएंगे। इसीलिए वे प्रशासन से मांग करते हैं कि जिन गरीबों के राशन कार्ड काटे गए हैं उनका दौबारा सर्वे करके गुलाबी और पीले राशन कार्ड बनाएं जाएं।
                                                                                             -महेंन्द्र लाठर, सरंपच गांव करसोला।

गांव करसोला के डिपो को कार्ड धारकों ने उनके गुलाबी कार्ड काटकर पीले बनाए जाने और पीले राशन कार्ड को काटे जाने को लेकर ताला लगाया हैं और राशन वितरण करने से मना करते हुए धरना दिया था। गांव के लगभग 325 बीपीएल कार्डों में से 200 के करीब लोगों के कार्ड काट दिए गए हैं और 400 के करीब गलत तरीके से बीपीएल कार्ड बनाएं। ऐसे में लगभग 60 प्रतिशत लोगों के गलत तरीके से राशन कार्ड बनाएं गए है। ग्रामीणों का कहना है कि जब तक उनके कार्ड नहीं बनाए जाते तब तक डिपो को नहीं खोलने देंगे।
                                                                                        -यशवंत शर्मा, डिपो होल्डर गांव करसोला।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here