सर छोटूराम की जयंती पर हुई भाषण प्रतियोगिता

संगरिया (सच कहूँ न्यूज)। स्थानीय बीएन स्कूल में गुरुवार को सर छोटूराम की जंयती का आयोजन किया गया। इस अवसर पर विद्यार्थियों ने भाषण प्रतियोगिता एवं सर छोटूराम का चित्र बनाकर उनके जन्मदिन को यादगार बनाया। विद्यार्थियों ने अपने भाषण में उनके जीवन के संघर्ष, शिक्षा उनके द्वारा अनुभव किये गये विचारों को प्रेषित किया। इस मौके पर संस्था संस्थापक बहादुर सिंह गोदारा ने विद्यार्थियों का सम्बोधित करते हुए कहा कि अंग्रेजों से भिड़ने वाले अग्रणी व्यक्ति सर छोटू राम थे। सर छोटूराम का जन्म 24 नवंबर 1881 को रोहतक जिले के झझर कस्बे में हुआ। उन्होंने भारत को आजाद व खुशहाल बनाने के लिए अथक प्रयास किए। सर छोटूराम जी ने सन 1930 में 2 महत्वपूर्ण कानून पास करवाए जिसमें से पहला तो किसानों को साहूकारों से मुक्ति दिलवाने का था।

यह भी पढ़ें:– नि:शुल्क नेत्ररोग जांच शिविर में 128 मरीजों की जांच

दूसरा किसानों के मूलभूत अधिकारों का था इसके अलावा सर छोटू। 9 जनवरी 1945 को सर छोटूराम की मृत्यु हो गई व इसी दिन को हम उनकी पुण्यतिथि के रूप में मनाते हैं। सन् 2018 में भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सर छोटूराम की जन्मभूमि हरियाणा के रोहतक में किसान नेता सर छोटूराम की 64 फीट ऊंची प्रतिमा का अनावरण किया था। इस अवसर पर प्रधानाचार्य महावीर गोस्वामी, उप-प्रधानाचार्य मनदीप सिंह व विद्यालय परिवार उपस्थित रहा। मंच संचालन लवली गर्ग ने किया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here