Career Tips: क्या आप बनना चाहते है होम्योपैथिक डॉक्टर? तो जानें 12वीं के बाद कौन-सा कोर्स करें

Career Tips
Career Tips: क्या आप बनना चाहते है होम्योपैथिक डॉक्टर? तो जानें 12वीं के बाद कौन-सा कोर्स करें

How to become a Homeopathy Doctor:आजकल के बुजुर्ग लोग अंग्रेजी दवाओं के अलावा होम्योपैथिक दवाओं पर भी भरोसा करते है। किसी भी बीमारी और समस्या को ठीक करने लिए होम्योपैथिक डॉक्टर प्राकृतिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल करते है। आपको बता दें कि भारत समेत दुनिया भर में होम्योपैथिक डॉक्टरों की भी मांग भढ़ती जा रहा है, वहीं छात्रों में भी होम्योपैथिक डॉक्टर बनने इंट्रेस्ट बढता जा रहा है। Career Tips

Career Tips
Career Tips: क्या आप बनना चाहते है होम्योपैथिक डॉक्टर? तो जानें 12वीं के बाद कौन-सा कोर्स करें

Immunity Boosting Foods: स्वस्थ जीवन के निर्माण में ये फूड हैं गुड, रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने में हैं काफी गुणकारी

दरअसल होम्योपैथी के रूप में जाना जाने वाली मेडिकल स्टडी का क्षेत्र केवल उनके लक्षणों का इलाज करना ही नहीं बल्कि बीमारियों को ठीक करने पर केंद्रित है। कई रिसर्च में भी ये बताया गया है कि होम्योपैथिक दवाईयों का शरीर पर कोई दुष्प्रभाव नहीं पड़ता है, इसलिएस ये पद्धति काफी सुरक्षित है। अगर आप भी 12वीं के बाद होम्योपैथी डॉक्टर बनना चाहते हैं, तो आज हम आपको बताएंगे की आपको होम्योपैथी डॉक्टर बनने के लिए कोन-सा कोर्स करना पड़ता है।

Ginger Health Risk: सावधान! अदरक का अधिक इस्तेमाल से शरीर में ये हो सकती हैं दिक्कतें

कब हुई होम्योपैथी की खोज | Career Tips

दरअसल होम्योपैथी की खोज साल 1796 में जर्मन फिजीशियन ने की थी, भारत में इसकी शुरुआत 19वीं सदी में हुई थी। होम्योपैथी शब्द ग्रीक भाषा के दो शब्दों ‘homeo’ और ‘pathos’ से मिलकर बना है। homeo रा मतलब similar से है, जबकि pathos का मतलब suffering/treatment हैं, दरअसल होम्योपैथी की दवा इस थ्योरी पर बनाई जाती है, आज की दुनिया के करीब 84 देशों में होम्योपैथी पद्धति से इलाज हो रहा है और भारत में करीब 2 लाख होम्योपैथी डॉक्टर है।

Winter Skin Care Tips: हल्दी में ये 2 चीजें मिलाकर चेहरे पर लगा लो, एक हफ्ते में चमक जाएगी…

12वी में इतने मार्क्स होने चाहिए | Career Tips

अगर आप होम्योपैथी डॉक्टर बनना चाहते है, तो आपके पास 12वीं में साइंस स्ट्रीम होनी चाहिए। फिजिक्स, केमिस्ट्री, बायोजॉजी और अंग्रेजी विषयों में कम से कम 50% अंकों के साथ मान्यता बोर्ड से 12वीं पास होना चाहिए, हालांकि आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को 5 % प्रतिशत की छूट दी जाती है।

Bedtime Drink: रात को सोने से पहले दूध में मिलाकर पी लो ये एक चीज, फिर देखो कमाल…मिलेंगे ये बड़े फायदे

12वीं के बाद करे ये कोर्स

जिस तरह एलोपैथिक डॉक्टर बनने के लिए बैचलर ऑफ मेडिसिन एंड बैचलर ऑफ सर्जरी यानी MBBS कोर्स करना जरूरी होता है, उसी तरह होम्योपैथी डॉक्टर बनने के लिए बैचलरर ऑफ होम्योपैथी मेडिसिन एंड सर्जरी कोर्स करना जरूरी होता है, इसके बाद PG,PHD, Diploma, Certificate कोर्स भी कर सकते है, . कोर्स पूरा करने के बाद आप किसी सरकारी या फिर प्राइवेंट हॉस्पिटल में प्रैक्टिस कर सकते है, अगर आप चाहें तो अपना खुद का क्लीनिक भी खोल सकते है।

NEET पास होना चाहिए या नहीं?

आपको बता दे कि BHMS कोर्स में एडमिशन के लिए नेशनल एजिबिलिटि कम एंट्रेंस एग्जाम यानी NEET UG क्वालीफाई होना जरूरी है, हालांकि कुछ कॉलेज जैसे कॉमन, एंट्रेंस टेस्ट के माध्यम से भी इस कोर्स में एडमिशन देते हैं, जैसे पंजाब यूनिवर्सिटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट और इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी कॉमन एंट्रेंस टेस्ट ….