साध-संगत ने मकान की बदली छत, साफ-सफाई के बाद किया रंग -रोगन

0
440
Humanity

बरनाला : गांव बीहला के सिन्दु सिंह की चिंता हुई खत्म

  • मकान को दी नयी और स्वस्थ दिक्ख

सच कहूँ/जसवीर सिंह गहल
बरनाला। जिला बरनाला के गांव बीहला में एक व्यक्ति को उसके अपने मकान की छत के गिरने और बारिश में पानी टपकने का डर खत्म हो गया है क्योंकि डेरा सच्चा सौदा की साध-संगत ने नि:स्वार्थ भावना से मकान की छत को नये सिरे से बनाने के साथ ही पूरे घर की साफ-सफाई और रंग रोगन कर मकान को एक नयी दिशा प्रदान की है। डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंंह जी इन्सां द्वारा 135 मानवता भलाई के कार्य चलाए जा रहे हैं, जिनको साध-संगत अपना फर्ज समझ कर निस्वार्थ भावना से करने के लिए हमेशा तत्पर रहती है। ऐसा ही एक अहम कार्य ब्लॉक महल कलां के गाँव बीहला की साध-संगत ने किया है।

साध-संगत ने मानवता भलाई के कार्यों की कड़ी को आगे बढ़ाते ‘आशियाना मुहिम’ के अंतर्गत अकेले रह रहे व्यक्ति के मकान की अति खस्ता हालत को नया रूप दिया है। जिम्मेवारों के मुताबिक सिन्दु सिंह पुत्र कोर सिंह के मकान के दोनों कमरों की छतें पुरानी होने के कारण काफी समय से जगह-जगह से गिर चुकी थीं जबकि छतों का कुछ हिस्सा सही सलामत होने साथ ही खतरा बना हुआ था, जिस कारण बारिश में सिन्दु सिंह को अपने मकान के गिरने का डर हर समय सताने लगा था, जिसका पता चलते ही साध-संगत ने आज कुछ घंटों में ही सिन्दु सिंह के मकान की दोनों छतें नये सिरे से बनाकर दी हैं।

इतना ही नहीं पूरे घर की साफ-सफाई करते पूरे घर को रंग-रोगन कर एक नयी दिशा प्र्रदान की गई है, जिससे सिन्दु सिंह अपने सुंदर घर में बिना किसी चिंता परेशानी के रह सके। इस मौके उक्त के अलावा भंगीदास क्रम सिंह इंसें इन्सां सोहियां, सोभा सिंह, साधु सिंह इन्सां, अंग्रेज सिंह इन्सां, बलविन्दर सिंह इन्सां, मलकीत सिंह इन्सां, करमजीत सिंह, रूप सिंह, बलराज सिंह इन्सां, जगतार सिंह इन्सां दीवाना, मिस्त्री नीटू बीहला, गुरी चन्नणवाल, मिस्त्री सुखविन्दर सिंह और रणजीत सिंह इन्सां ने भी पूर्ण सहयोग दिया।

पूज्य गुरू जी ने दिखाया इन्सानियत भलाई का रास्ता

ब्लॉक समिति जिम्मेदार गुरिन्दर सिंह इन्सां 25 मैंबर, जसविन्दर सिंह इन्सां 15 मैंबर और भंगीदास विजय कुमार इन्सां ने बताया कि सिन्दु सिंह गुजारे लायक कमाई करने से भी असमर्थ है और अकेला रहता है, जिस के मकान की खस्ता हालत संबंधी पता चला तो तुरंत ब्लॉक समिति के ध्यान में लाने के बाद पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की ओर से दिखाए रास्ते पर चलते आज मकान की दोनों छतें बदल कर घर की साफ- सफाई और रंग रोगन कर घर को एक नयी दिशा प्रदान की गई है। उन्होंने उक्त परहत्त के कार्य करने का पूरा श्रेय पूज्य गुरू जी को देते कहा कि इंसानियत सबसे बड़ा धर्म है, जिसके अंतर्गत जरूरतमंदों की मदद करना ही उनका उद्देश्य है।

डेरा श्रद्धालु परहत्त को देते हैं पहल

मौके पर मौजूद समूह पंचायत की ओर से सरपंच किरनजीत सिंह मिंटू ने डेरा श्रद्धालुओं के उक्त कार्य की प्रशंसा करते कहा कि आज के मतलबी दौर में हर कोई परहत्त से कन्नी कतराता है, परंतु डेरा श्रद्धालु परहत्त को पहल देते हैं। उन्होंने इस मौके ऐसे भलाई कार्यांे के लिए साध -संगत के हमेशा ही साथ देने का भरोसा भी दिया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।