Weather Update: तापमान में बढ़ोतरी के साथ ही सेहत विभाग ने गर्मी को लेकर जारी की एडवाइजरी

Fazilka News
Weather Update: तापमान में बढ़ोतरी के साथ ही सेहत विभाग ने गर्मी को लेकर जारी की एडवाइजरी

फाजिल्का (सच कहूँ/रजनीश रवि)। Weather Update: राज्य में इस गर्मी के मौसम के दौरान दिन-ब-दिन तापमान बढ़ रहा है, इस मौसम में सबसे बड़ी समस्या लू से होने वाली बीमारियां हैं। इसलिए डॉयरेक्टर स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग, पंजाब की ओर से आम लोगों के लिए गर्मी से बचने के लिए एडवाइजरी जारी की गई है। Fazilka News

इस संबंध में जानकारी देते हुए सिविल सर्जन फाजिल्का डॉक्टर चंद्रशेखर कक्कड़ ने कहा कि कुछ सावधानियों का प्रयोग कर गर्मी से होने वाली बीमारियों और उससे होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है। उन्होंने कहा कि अधिक तापमान शरीर की तापमान नियम प्रणाली को बिगाड़ देता है और गर्मी से संबंधित बीमारियों का कारण बनता है। उन्होंने कहा कि मौसम में तब्दीली के कारण वायरल बीमारियों का खतरा बढ़ जाता है। Fazilka News

उन्होंने कहा कि नवजात शिशुओं, छोटे बच्चों, गर्भवती महिलाओं, 65 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोगों, श्रमिकों, मोटापे से पीड़ित लोगों, मानसिक रुप से बीमार लोगों, हृदय रोग से पीड़ित रोगियों आदि को उच्च तापमान से बचना चाहिए। उन्होंने कहा कि गर्मी से बचने के लिए हमें दोपहर 12 बजे से 3 बजे तक चिलचिलाती धूप में बाहर नहीं निकलना चाहिए, इसलिए हमें सुबह और शाम बाहर के काम करने चाहिए। हर आधे घंटे के बाद भले ही हमें प्यास न हो पानी पीना चाहिए पर मिर्गी या हृदय रोग से पीड़ित लोग, गुर्दे या जिगर की बीमारी वाले व्यक्ति जो तरल प्रदार्थ की सीमित मात्रा पर हैं उन्हें पानी का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करना चाहिए।

उन्होंने कहा कि बाहर काम करते समय पूरे शरीर को ढकने वाले हल्के रंग के सूती कपड़े पहनने चाहिए, सिर को सीधी धूप से ढकने के लिए छाता, टोपी, तौलिया, पगड़ी या दुपट्टे का उपयोग करना चाहिए। इसके साथ ही नंगे पैर धूप में न जाएं। जो लोग धूप में काम करते हैं वह शरीर का तापमान ठीक रखने के लिए थोड़ी देर बाद छाया में आराम करें और सिर पर गीला तौलिया या कपड़ा जरुर रखें और हमेशा पानी साथ लेकर जाएं। Fazilka News

उन्होंने कहा कि मौसमी फल और सब्जियां जैसे कि तरबूज, खरबूजा, संतरा, अंगूर, ककड़ी, टमाटर, घीया और तोरी का अधिक उपयोग करना चाहिए क्योंकि इनमें पानी अधिक मात्रा में होता है। उन्होंने कहा कि ऐसे मौसम में ओ.आर.एस., नींबू पानी, लस्सी, नारियल पानी और अन्य तरल पदार्थों का अधिक सेवन करना चाहिए और अपनी त्वचा की सुरक्षा के लिए सनस्क्रीन और आंखों की सुरक्षा के लिए काला चश्मा लगाएं, थोड़ा-थोड़ा भोजन करें और अधिक बार खाएं, ठंडे पानी से नहाएं, सूती कपड़े से बने हलके रंग के मास्क पहने। अगर कसरत करते हैं तो धीरे-धीरे शुरु करने और बढ़ाएं ताकि शरीर का तापमान अनुकूल रहे। Fazilka News

पारंपरिक खाद्य पदार्थ जैसे प्याज का सलाद, नमक और जीरा के साथ कच्चा आम खाएं ये गर्मी के दौरे से बचा सकते हैं। अपने घर को हवादार और ठंडा रखें, कमरे की हवा को ठंडा करने के लिए कमरे में गीले तौलिए लटकाएं और निचली मंजिल पर रहने की कोशिश करें। गर्मी के चरम घंटों के दौरान खाना पकाने से बचें और रसोई क्षेत्र को अच्छी तरह हवादार बनाने के लिए दरवाजे और खिड़कियां खुली रखें। सिगरेट, तम्बाकू, बीड़ी और शराब का सेवन न करें। चाय, कॉफी का प्रयोग कम से कम करें, तला-भुना और बाहर का खाना खाने से बचें।

अपनी त्वचा की सुरक्षा के लिए सनस्क्रीन और आंखों की सुरक्षा के लिए काला चश्मा लगाएं, थोड़ा-थोड़ा भोजन करें और अधिक बार खाएं, ठंडे पानी से नहाएं, सूती कपड़े से बने हलके रंग के मास्क पहने। अगर कसरत करते हैं तो धीरे-धीरे शुरु करने और बढ़ाएं ताकि शरीर का तापमान अनुकूल रहे। Fazilka News

यह भी पढ़ें:–Bathinda Police: बठिंडा पुलिस हुई हाईटेक