कल से खुलेंगे स्कूल, विद्यार्थी उत्साहित, स्कूलों को हिदायतें जारी

0
308
Schools will open from tomorrow sachkahoon

कक्षा छठी से 8वीं तक के विद्यार्थी 23 से आएंगे स्कू ल

सच कहूँ/राजू, ओढां। पिछले 3 माह बाद शुक्रवार से प्रदेश के सरकारी व निजी स्कूलों में रौनक लौटेगी। विभागीय निर्णयानुसार पहले चरण में कक्षा 9वीं से 12वीं तक के विद्यार्थी स्कूल आएंगे। विद्यार्थियों को सम-विषम के तहत बुलाया जाएगा। जबकि कक्षा छठी से 8वीं तक के विद्यार्थी 23 जुलाई से स्कू ल आ पाएंगे। कक्षा 5वीं तक के बच्चों को बुलाने का निर्णय अभी शेष है। कोरोना के केसों में आई कमी के मद्धेनजर सरकार ने स्कूल खोलने का निर्णय लिया है, लेकिन सभी स्कूलों को हिदायत दी गई है कि इस मामले में किसी तरह की कोई ढिलाई न बरती जाए।

विभागीय नियमों की पालना के साथ ही सभी स्कूल खुलेंगे। इसके अलावा अभिभावकों से स्वीकृति लेना अनिवार्य होगा। अगर अभिभावक चाहेंगे तो ही बच्चे स्कूल में आकर पढ़ाई करेंगे अन्यथा वे घर बैठे ऑनलाइन भी पढ़ सकते हैं। स्कूल में एंट्री करते ही विद्यार्थियों को मास्क देकर सैनिटाइज किया जाएगा। हालांकि कोरोना की तीसरी लहर के मद्धेनजर अभिभावकों में अपने बच्चों को लेकर चिंता होना स्वाभाविक है। इस मामले में स्कूलों में किसी तरह की ढिलाई न बरती जाए इसके लिए स्कूल प्रबंधकों को सख्त हिदायतें जारी की गई हैं। विभाग ने स्कूल में एसएमसी प्रधान की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया है जो स्कूल में हिदायतों का पालन होना सुनिश्चित करेगी।

इन हिदायतों की करनी होगी पालना

  • जिन स्कूलों में 9वीं से 12वीं तक 100 या इससे कम छात्र हैं उसमें सभी आएंगे।
  • जिन स्कूलों में 100 से अधिक विद्यार्थी हैंं उन्हें सम-विषम के हिसाब से एंट्री होगी।
  • एक सेक्शन में केवल 30 विद्यार्थी ही बैठेंगे।
  • स्कूल में एंट्री करते ही विद्यार्थियों को मास्क देकर सैनिटाइज करना होगा।
  • एक डेस्क पर केवल एक विद्यार्थी ही बैठेगा और उसका नाम उस डेस्क पर लिखा होगा।
  • विद्यार्थी जिग-जेग पोजिशन में बैठेंगे।
  • विद्यार्थी स्टेशनरी, खाद्य सामग्री व पानी का आदान-प्रदान नहीं करेगा।
  • विद्यार्थियों का तापमान चेक कर उसका लेखा-जोखा हर रोज अवसर ऐप पर अप्लोड होगा।
  • जो विद्यार्थी बीमार हैं या वे स्कूल में नहीं आ सकते तो उनकी ऑनलाइन पढ़ाई जारी रहेगी।
  • अगर कोई विद्यार्थी स्कूल में कोरोना संक्रमित मिलता है तो विभाग को तुरंत सूचित किया जाए।
  • विद्यार्थियों की इंट्री के लिए 2 या 3 गेट की व्यवस्था हो।

‘‘कक्षा 9वीं से 12वीं तक के स्कूल प्रथम चरण में खोले जा रहे हैंं। इसी को लेकर सभी स्कूल प्रबंधकों की बैठक लेकर उन्हें उचित दिशा-निर्देश दे दिए गए हैं। कोविड के तहत जारी किए गए विभागीय नियमों की सख्ती से पालना करवाई जाएगी। अगर किसी ने अनदेखी की तो कार्रवाई अमल में लाई जाएगी।

हरमेल सिंह, खंड शिक्षा अधिकारी (ओढां)।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।