भाजपा में पीएम मोदी के बाद कौन है ताकतवर नेता प्रशांत किशोर की नज़रों में? सुनिए उन्ही की जुबानी ….

Prashant Kishor

नई दिल्ली। तुम्हारी भी जय-जय, हमारी भी जय-जय, न तुम हारे, न हम हारे। ये एक पुरानी फिल्म का गाना है। इसी गाने की तर्ज पर चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर चल रहे हैं। उन्होंने एक शो में कांग्रेस की अध्यक्ष सोनिया गांधी की तारीफ की, तो पीएम नरेंद्र मोदी के खिलाफ भी नहीं गए। एक सवाल पर प्रशांत किशोर उर्प पीके ने सोनिया गांधी के बारे में कहा कि दूसरे देश यानी इटली से आकर भारत की राजनीति में इतनी बड़ी ताकत बनना काबिल-ए-तारीफ है। वहीं, मोदी के बारे में पीके का कहना था कि वो भी जिस जगह से आकर आज जहां हैं, वो भी शानदार उपलब्धि है। प्रशांत किशोर ने बीजेपी के दूसरे सबसे ताकतवर नेता का नाम भी लिया। उन्होंने कहा कि बीजेपी में मोदी के बाद सबसे ताकतवर नेता अमित शाह हैं। राहुल और प्रियंका में सबसे बेहतर कौन पर उनका कहना था कि कांग्रेस इस पर फैसला करे।

मोदी और अमित शाह की तारीफ करने के बाद हालांकि, प्रशांत किशोर ने ये भी कहा कि ऐसा नहीं है कि बीजेपी को हराया नहीं जा सकता। उन्होंने कहा कि आरएसएस और तमाम जमावड़े के बाद भी बीजेपी को करीब 40 फीसदी वोट ही मिलते हैं। यानी 60 फीसदी वोटर उससे सहमत नहीं है। इस वोट को एक साथ किया जाए, तो बीजेपी हार सकती है। कांग्रेस में न जाने के सवाल पर प्रशांत ने कहा कि उनका बड़प्पन था कि मुझे बुलाया। बात न बनना अलग है। कांग्रेस के संविधान में अलग-अलग पद और प्रकोष्ठ हैं। जहां के लिए ऑफर दिया जा रहा था, वहां लग रहा था कि फैसले लेने के लिए ठीक जगह नहीं थी। नीतीश कुमार के खुद पर दिए बयान पर तो पीके ने कुछ नहीं कहा, लेकिन आरजेडी के चीफ लालू यादव के तंज कि सारे देश का चक्कर लगाकर वो बिहार की तरफ आ रहा है, पर वो बोले कि लालू बड़े नेता हैं। उनसे मेरे अच्छे रिश्ते हैं। वो कुछ भी कह सकते हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here