निस्वार्थ सेवा भाव से काम करने के लिए समर्पण पोर्टल से जुड़ें लोग : मनोहर लाल

Samarpan Portal Sachkahoon

प्रदेश में सामाजिक कार्यों को जल्द वॉलंटियर्स को सौंपेगी सरकार

चंडीगढ़ (सच कहूँ/अनिल कक्कड़)। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि नि:स्वार्थ सेवा भाव से काम करने के लिए ज्यादा से ज्यादा वॉलंटियर को समर्पण पोर्टल (Samarpan Portal) पर रजिस्ट्रेशन कर जुड़ना चाहिए। अभी तक इस पोर्टल पर करीब 3500 वॉलंटियर्स ने रजिस्ट्रेशन करवाया है, लेकिन जैसे ये वॉलंटियर्स सामाजिक कार्य शुरू करेंगे तो वो दिन दूर नहीं जब इनकी संख्या साढ़े तीन लाख होगी। उन्होंने कहा कि जल्द ही रजिस्टर्ड वॉलंटियर्स को सामाजिक कार्य सौंपे जाएंगे। मुख्यमंत्री गुरुवार को अपने निवास स्थान पर समर्पण पोर्टल पर रजिस्टर्ड कुछ वॉलंटियर्स के साथ बैठक के दौरान बोल रहे थे।

स्वेच्छा से समाजसेवा करने वालों में बड़ा वर्ग रिटायर कर्मचारियों का

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकारी सिस्टम के अंतर्गत बहुत से कार्य किए जाते हैं। इस सिस्टम को संभालने के लिए आईएएस अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक कार्य करते हैं। इस निरंतर जारी प्रक्रिया के दौरान उन्हें ध्यान में आया कि कुछ ऐसे लोगों को भी इस सिस्टम से जोड़ना चाहिए, जो सरकार के कार्यों में सेवा भाव से अपना योगदान दें। इसी सोच को ध्यान में रखककर समर्पण पोर्टल की शुरूआत की गई। आज सेवानिवृत्त कर्मचारियों का एक बहुत बड़ा वर्ग है, जो समाज के हित में अपना बचा हुआ समय लगाना चाहता है। ऐसे लोग ज्यादा से ज्यादा संख्या में इस पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन करवाकर इस सेवा भाव के यज्ञ में शामिल हो सकते हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना काल में वॉलंटियर्स के लिए एक पोर्टल बनाया था। इस पोर्टल पर 70 हजार वॉलंटियर्स ने रजिस्ट्रेशन किया था। सरकार ने इन सभी की सूची जिलों में भेजी और जिला उपायुक्त ने इन्हें काम सौंपे। लोगों ने सेवाभाव से इसमें बढ़-चढ़ कर हिस्सा लिया। इसी तरह अब समर्पण पोर्टल पर बड़ी संख्या में जुड़कर सामाजिक कार्यों में योगदान देने की जरुरत है। इसके लिए समाज के हर वर्ग को आगे आना चाहिए।

जल्द दी जाएगी सभी वॉलंटियर को जिम्मेदारी

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि समर्पण पोर्टल पर अभी तक रजिस्टर्ड 3500 वॉलंटियर्स को जल्द जिम्मेदारी दी जाएगी। सरकार पंक्ति में खड़े अंतिम व्यक्ति तक लाभ पहुंचाने के लिए प्रतिबद्ध है। इसी के चलते परिवार पहचान पत्र (पीपीपी) का कार्य निरंतर चल रहा है। पीपीपी के अंतर्गत वैरिफिकेशन का सर्वे भी जारी है। इस सर्वे को और अधिक मजबूत करने के लिए समर्पण पोर्टल पर रजिस्टर्ड कुछ वॉलंटियर्स की मदद ली जाएगी। इसी तरह भविष्य में अलग-अलग कार्यों में जहां इनकी जरुरत महसूस होगी, वहां कार्यों का दायित्व भी सौंपा जाएगा। धीरे-धीरे यह टीम कार्य करेगी तो प्रेरणाभाव से और वॉलंटियर्स भी इस पोर्टल से जुड़ने के लिए आगे आएंगे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here