दर्द से तड़प रहे बछड़े के लिए ‘इन्सां’ बने मसीहा

0
440
Humanity

घायल बेजुबान का करवाया इलाज (Humanity )

जाखल(सच कहूँ न्यूज)। देश में गौरक्षा के लिए बड़े-बड़े बयान दिए जाते हैं, लेकिन सड़कों पर बेसहारा घूमने वाली गायों की फिक्र करने वाले कम ही मिलते हैं। इस दिशा में जाखल ब्लॉक के गांव चांदपुरा निवासी गुरसेवक सिंह इन्सां ने जो किया वो अपने आप में मिसाल है। युवकों ने दर्द से छटपटाती गाय के बछड़े का इलाज शुरू किया और उसकी सेवा में जुट गया। दरअसल, इस गाय के बछड़े की हालत खराब हुई, तो उसके मालिक ने इलाज की जगह उसे बेसहारा सड़क पर छोड़ दिया। गुरसेवक सिंह इंसा जब अपने खेत में जा रहा था तो उसने देखा की एक गाय का बछड़ा दर्द से छटपटा रहा है। गाय के बछड़े की हालत इतनी खराब थी और उसकी सींग में रस्सी गड़ी हुई थी जिसमें कीड़े पड़ गए थे।

गाय के बछड़े को बेहद तकलीफ में डेरा सच्चा सौदा श्रद्धालु गुरसेवक इन्सां ने देखा, तो उनसे रहा नहीं गया। उन्होंने गांव के युवक गगनदीप इन्सां और गांव मुंडलिया के युवक को साथ लेकर एक निजी डॉक्टर को बुला कर इस गाय के बछड़े का इलाज शुरू किया। गाय के बछड़े के सींग से रस्सी को काटकर जख्म को साफ करने के बाद उसकी मरहम-पट्टी की गई। गाय की लगातार देखभाल करने से उसे आराम मिला। गुरसेवक सिंह इन्सां ने कहा कि उन्हें यह प्रेरणा पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह इन्सां से मिली है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।