जन आक्रोश यात्रा किसी पार्टी की नहीं, जनता की यात्रा :- डॉ सतीश पूनियां

दोनों सभाओं में हजारों की संख्या में उमड़े लोग

  • भाजपा की सरकारों ने किया इस क्षेत्र की सिंचाई व्यवस्था को मजबूत करने का काम :- डॉ सतीश पूनियां

विजयनगर (सच कहूँ न्यूज)। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनियां ने आज श्री विजयनगर और घड़साना में आयोजित जन आक्रोश महासभाओं को संबोधित किया। दोपहर 1:00 बजे श्रीविजयनगर के डाडा पम्माराम मेला ग्राउंड में उपस्थित जनाक्रोश महासभा को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा की भाजपा की सरकारों ने इस क्षेत्र के नहरी क्षेत्र को दुरुस्त करने के लिए भरपूर काम किया है। केंद्र की हो या राज्य की, भाजपा सरकारों ने हमेशा किसानों के कल्याण के लिए कार्य किया है।

यह भी पढ़ें:– कैराना पीएनबी पर भाकियू का हल्ला बोल, धरना-प्रदर्शन

श्री अटल बिहारी वाजपेयी जी की सरकार ने किसान क्रेडिट कार्ड योजना के माध्यम से किसानों को सुदृढ़ करने का जो बीड़ा उठाया था,उसे वर्तमान की नरेंद्र मोदी सरकार फसल बीमा योजना और किसान सम्मान निधि योजना के माध्यम से आगे बढ़ाने का काम कर रही है। हजारों की संख्या में उपस्थित अपार जनसमूह से गदगद नजर आए प्रदेश अध्यक्ष डॉ सतीश पूनिया ने कहा कि लोग कहते हैं कि यह जन आक्रोश यात्रा किसी राजनीतिक पार्टी की यात्रा है, परंतु आज आपकी इस अपार उपस्थिति ने यह दर्शा दिया है कि यह किसी राजनीतिक दल की यात्रा नही अपितु जन-जन की यात्रा है ।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की सरकारें जिस भ्रष्टाचार को इस देश की रीति बताती थी,उस भ्रष्टाचार को करोड़ों लोगों के खाते खुलवाकर समाप्त करने का काम नरेंद्र मोदी जी की सरकार ने किया है। यह इस देश का दुर्भाग्य है कि इस देश के प्रधानमंत्री ने मंच से इस बात को स्वीकार किया था कि उनके द्वारा भेजे गए 1 रूपए में से जरूरतमंद को 15 पैसे ही पहुंचते हैं परंतु आज केंद्र सरकार द्वारा दिया गया 1 रूपया सीधा जरूरतमंद के पास उसके खाते में पहुंच जाता है।

उन्होंने कहा कि किसान कर्ज माफी की बात करने वाली कांग्रेस सरकार के 4 साल के कार्यकाल में 18000 से भी अधिक किसानों की जमीनों को कर्जे के कारण कुर्क कर लिया गया और 200 से अधिक किसानों ने कर्जे से तंग आकर आत्महत्या कर ली । आज हिंदुस्तान मैं सबसे अधिक युवा बेरोजगारी राजस्थान में है किसान मजदूर का बेटा 1 साल तक प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करता है और जब पेपर देकर बाहर निकलता है तो उसे पता चलता है कि पेपर लीक हो गया है। पेपर लीक करने में भी राजस्थान की कांग्रेस सरकार ने एक नया रिकॉर्ड बनाया है।

उन्होंने कहा कि पर्चा तभी लीक होता है जब सरकार लीक हो जाती है। बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ते की बात हो या अन्य कोई चुनावी वायदा, इस सरकार ने कोई वादा नहीं निभाया। डॉ सतीश पूनिया ने कहा की सिख समुदाय के लिए ऐतिहासिक काम करने का कार्य नरेंद्र मोदी जी ने किया है। उन्होंने उपस्थित लोगों से आह्वान किया कि 2023 में इस निरंकुश ,नाकारा और निकम्मी सरकार को उखाड़ फेंकना है और मैं आपको विश्वास दिलाता हूं की आपकी समस्याओं के लिए आपका यह भाई, यह बेटा सड़क से लेकर सदन तक की लड़ाई को निरंतर जारी रखेगा । उन्होंने कहा कि 2023 में जब भाजपा की सरकार बनेगी तो सबसे पहले इस क्षेत्र की जन समस्याओं को पूरा करने का काम किया जाएगा ।

इससे पहले मंच पर पहुंचने पर डॉ सतीश पूनिया का जिलाध्यक्ष आत्माराम तरड़ के नेतृत्व में रायसिंहनगर विधानसभा के सातों मंडल अध्यक्षों द्वारा एक बड़ी फूल माला से स्वागत किया गया। जन आक्रोश सभा को जिला अध्यक्ष आत्माराम तरड़ रायसिंहनगर विधायक बलवीर सिंह लूथरा पूर्व मंत्री सुरेंद्र पाल सिंह टीटी सांसद निहालचंद सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया। कार्यक्रम में ठाकरी के किसान सोहन लाल कड़ेला के परिजनों को 51 हजार रुपए की नगद राशि देकर उनका सहयोग किया गया।

आज के इस कार्यक्रम में जिलाध्यक्ष आत्माराम तरड़ प्रदेश मंत्री विजेंद्र पुनियां हनुमानगढ़ जिलाध्यक्ष बलवीर बिश्नोई विधायक रामप्रताप कासनियां पूर्व विधायक राजेंद्र भादू लालचंद मेघवाल अशोक नागपाल विजयनगर चैयरमेन राजेंद्र लेघा रायसिंहनगर नगर पालिका चेयरमैन मनीष कौषल प्रदीप धेरड़ सरदूल सिंह कंग महेंद्र प्रताप मंडा शरणपाल सिंह जिला मीडिया प्रभारी श्रीचंद चौधरी काजल छाबड़ा राजू छाबड़ा कश्मीरी धमीजा सहित रायसिंहनगर विधानसभा के सभी सातों मंडल अध्यक्ष और क्षेत्र से हजारों लोग उपस्थित रहे। कार्यक्रम में सफल मंच संचालन युवा मोर्चा जिला अध्यक्ष अवी दानेवालिया ने किया। कार्यक्रम के बाद डॉ सतीश पूनियां और अन्य नेताओं ने डाडा पम्माराम गुरुद्वारे में माथा टेका और क्षेत्र की खुशहाली की कामना की। गुरुद्वारे में डॉ सतीश पूनिया का सरोपा भेंट कर उनका स्वागत किया गया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here