पेरिस में सीनियर रिसर्च कंस्लटेंट बनी कलायत की बेटी दिव्या

Divya sachkahoon

कलायत (सच कहूँ न्यूज)। एक तरफ जहां अभी तक भी कई परिवार के लोग लड़कियों को लड़कों के बराबर दर्जा देने से कतराते हैं। वहीं बेटियां अपनी प्रतिभा से गौरवान्वित कर रही हैं। इसी क्रम में संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन में कस्बा कलायत की बेटी दिव्या शर्मा का पेरिस में सीनियर रिसर्च कंस्लटेंट के पद पर चयन हुआ है। पेरिस में चयन की खबर मिलते ही परिवार को बधाइयों का तांता लग गया।

दिव्या शर्मा के पिता मुकेश पोलस्त ने बताया कि उनकी बेटी का संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन पेरिस में सीनियर रिसर्च कंस्लटेंट के पद पर चयन हुआ है। यूनेस्को, संयुक्त राष्ट्र का एक घटक निकाय है। इसका कार्य शिक्षा, प्रकृति तथा समाज विज्ञान, संस्कृति तथा संचार के माध्यम से अंतराष्ट्रीय शांति को बढ़ावा देना है और उद्देश्य शिक्षा एवं संस्कृति के अंतरराष्ट्रीय सहयोग से शांति एवं सुरक्षा की स्थापना करना है ताकि संयुक्त राष्ट्र के चार्टर में वर्णित न्याय, कानून का राज, मानवाधिकार एवं मौलिक स्वतंत्रता हेतु वैश्विक सहमति बने।

शिक्षा बाल भारती से शुरू किया शिक्षा का सफर

मुकेश पोलस्त ने बताया कि दिव्या ने प्राथमिक शिक्षा बाल भारती व सीनियर सैकेंडरी एमडीएस स्कूल से अव्वल श्रेणी में पास की। इसके बाद आईआईएसईआर मोहाली से एमएस मैथ करने के पश्चात पीएचडी मून्सटर जर्मनी से की। उन्होंने बताया कि बुधवार को संयुक्त राष्ट्र शैक्षिक, वैज्ञानिक तथा सांस्कृतिक संगठन पेरिस में इंटरव्यू के पश्चात सीनियर रिसर्च कंस्लटेंट के पद बेटी दिव्या का चयन हुआ है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here