सिपाही निकला अपहरण का मास्टर माइंड, जानें क्या है मामला

Arrested

नैनीताल (एजेंसी)। उत्तराखंड की ऊधमसिंह नगर पुलिस ने फिरौती के लिये Kidnapping करने वाले पांच अपहरणकर्ताओं को गिरफ्तार किया है। अपहरणकर्ताओं में निलंबित पुलिस सिपाही भी शामिल है। ऊधमसिंह नगर के पुलिस अधीक्षक टीएस मंजूनाथ ने रूद्रपुर कोतवाली में इस मामले का खुलासा करते हुए बताया कि 17 जनवरी को गदरपुर के करतारपुर रोड निवासी नादिर अली का अपहरण का मामला सामने आया था। अपहरणकतार्ओं की ओर से फिरौती के लिये अपहरण किया गया।

क्या है मामला

अपहरणकर्ताओं की ओर से अपहर्ता के भाई नादिर अली से पाचं लाख रुपए फिरौती की मांग की गयी। आखिर पचास हजार रुपए में सौदा तय हुआ। अहपहरणकतार्ओं ने काशीपुर रोड स्थित ओवर ब्रिज के नीचे फिरौती की रकम मंगवाई। नादिर अली अपने भाई जाफर व मुजाफर को साथ लेकर तय स्थान पर पहुंचा। आखिर आरोपियों ने पैसे लेकर नूर अली को छोड़ दिया। मंजूनाथ ने बताया कि इसी दौरान नादिर अली ने शोर मचा दिया और जाफर व मुजाफर के साथ ही आसपास के लोगों ने दो अपहतार्ओं नेपाल सिंह व राज चैधरी को दबोच लिया। साथ ही दोनों आरोपियों को रूद्रपुर पुलिस को सौंप दिया। नादिर अली की शिकायत पर रूद्रपुर पुलिस ने अभियोग पंजीकृत कर जांच शुरू कर दी।

आरोपियों से कड़ी पूछताछ के बाद पुलिस ने फरार अपहरणकतार्ओं की धरपकड़ के लिये एक टीम का गठन किया। पुलिस टीम ने अपहतार्ओं का पीछा करते हुए आरोपी सुमित धौनी, संदीप पाटनी, विजय सिंह को हल्द्वानी से गिरफ्तार कर लिया। साथ ही हिरासत में लिये नेपाल सिंह व राज चैधरी को भी गिरफ्तार कर लिया गया।इनका एक साथी महेन्द्र उर्फ भूपेन्द्र फरार बताया जा रहा है।

पुलिस आरोपी की तलाश में जुट गयी है। पुलिस ने आरोपियों के पास से फिरौती की कुछ रकम भी बरामद कर ली है। आरोपियों ने फिरौती के लिये अपहरण की बात स्वीकार की है। बताया जा रहा है कि इस घटना का मास्टर माइंड पुलिस का निलंबित सिपाही संदीप पाटनी है। वह रूद्रपुर पुलिस लाइन में तैनात है। यह भी बताया जा रहा है कि आरोपी अल्मोड़ा से रूद्रपुर स्थानांतरित हुआ लेकिन उसने आमद नहीं करायी और तब से लापता है। इसके बाद उसे निलंबित कर दिया गया।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here