नशों के खिलाफ एक्शन में सीएम मनोहर, पूज्य गुरु जी की मुहिम इस तरह ला रही रंग

Drug Free Haryana

नशा रोकने में अपना योगदान दें ईमाम: मनोहर लाल

  • पहली बार मुख्यमंत्री ने ईमामों के साथ की खुलकर बातचीत
  • सभी धर्मों के लोग इकट्ठे होकर समाज में काम करेंगे तो देश तरक्की करेगा
  • हरियाणा वक्फ बोर्ड के ईमामों ने मुख्यमंत्री के सम्मान में आयोजित किया समारोह

गुरुग्राम(संजय कुमार मेहरा)। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गुरुवार को मुस्लिम समाज के हरियाणा वक्फ बोर्ड के ईमामों के साथ बैठक की। उन्होंने कहा कि हम सभी इकट्ठे रहकर समाज में काम करें तो देश उन्नति की राह पर अग्रसर होगा। मुख्यधारा में सब लोग आएं। किसी के भी विचार में कोई ऐसी बात ना आए, जिससे समाज के अंदर भाईचारा बिगड़े। यह पहला अवसर था जब प्रदेश के मुख्यमंत्री ने इस प्रकार से हरियाणा वक्फ बोर्ड के ईमामों के साथ खुलकर बातचीत की है। ईमामों ने प्रदेश स्तर पर बड़ा कार्यक्रम आयोजित करने के लिए उनसे समय मांगा है।

वहीं पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां 40 दिन की रूहानी यात्रा पर बरनावा आश्रम पधारे थे और रूहानी आॅनलान सत्संग के दौरान पूज्य गुरु जी ने नशो के खिलाफ मुहिम चलाई थी जिसका असर अब देश के विभिन्न राज्यों में देखने को मिल रहा है। मुहिम के तहत लोग नशा छोड़ रहे हैं और कारोबारी नशो की सामग्री बेचना बंद कर रहे हैं। उधर मोदी सरकार भी नशों के खिलाफ जन अभियान छेड़ा हुआ है।

वक्फ बोर्ड से जुड़े ईमाम के वेतन में 5000 रुपये तक की बढ़ोत्तरी

ईमामों को अभूतपूर्व सौगात देने के लिए तंजीम आईमा-ए-आॅकाफ हरियाणा वक्फ बोर्ड द्वारा मुख्यमंत्री मनोहर लाल का सम्मान समारोह गुरुग्राम विश्वविद्यालय में आयोजित किया गया था। इस कार्यक्रम की शुरूआत मुख्यमंत्री ने सलाम वालेकुम के संबोधन के साथ की और कार्यक्रम में उपस्थित सभी 25 ईमामों का परिचय लिया। कार्यक्रम में बताया गया कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने हरियाणा वक्फ बोर्ड के ईमामों के वेतन में लगभग 50 प्रतिशत से ज्यादा वृद्धि की है, जिसके लिए बोर्ड से जुड़े ईमामों ने मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त करने के लिए इस कार्यक्रम का आयोजन किया था। वक्फ बोर्ड से जुड़े ईमाम के वेतन में 5000 रुपये तक की बढ़ोत्तरी की गई है। हर साल 5 प्रतिशत वृद्धि का प्रावधान किया गया है।

manohar lal khattar

उन्होंने कहा कि मुस्लिम समाज विशेषकर मेवात क्षेत्र में बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ कार्यक्रम को आगे बढ़ाने में मौलाना व ईमामों ने काफी सहयोग दिया जिसकी मैं प्रशंसा करता हूं। इसी प्रकार स्वच्छता अभियान में भी काफी सहयोग मिला। मुख्यमंत्री ने कहा कि जब भी ईमाम व मौलानाओं को मौका मिले, अच्छी बातों को आगे बढ़ाएं। उन्होंने समाज में फैल रही नशे की प्रवृत्ति पर चिंता जाहिर करते हुए ईमामों से अपील की है कि नशाखोरी को रोकने में अपना योगदान दें, क्योंकि जहां व्यक्ति पूजा करने जाता है उस पूजा स्थल के पुजारी या ईमाम की ज्यादा मानता है। इसके साथ मुख्यमंत्री ने मेवात में पहली बार जिला परिषद व पंचायत समिति के चुनावों में कमल का फूल खिलाने पर खुशी जाहिर की और कहा कि इससे दूसरों को चिंता होने लगी है।

बंटे रहेंगे तो सुख छिन जाएगा…

इस कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने कहा कि अपने समाज व आवाम का सबका भला होना चाहिए। सबको एकता के सूत्र में पिरोना चाहिए, अलग-अलग वर्गों में बंटे रहेंगे तो सुख छिन जाएगा। देश में रहने वाले लोग चाहे किसी भी धर्म को माने परंतु खून सबका एक है। उन्होंने कहा कि यह विपक्षी पार्टियों द्वारा फैलाया गया भ्रम है कि भाजपा और आरएसएस की विचारधारा मुस्लिमों के खिलाफ हैं, जबकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जबसे देश की बागडोर संभाली है, उन्होंने मुस्लिम समाज के लिए कई तरमिमें की हैं। उदाहरण के तौर पर तीन तलाक पर बनाए गए कानून को आम जनमानस ने अच्छा माना है। ऐसे तथ्यों के बारे में लोगों को बताने की जरूरत है।

नन्हें बच्चों ने नशों के विरुद्ध भरी हुंकार

Depth campaign

डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा चलाई गई Depth campaign समाज में बदलाव की क्रांति ला रही है। इसी कड़ी में वीरवार को जींद के गांव पड़ाना में स्थित सनराईज पब्लिक स्कूल के बच्चों ने नशों के खिलाफ हुंकार भरते हुए क्षेत्र के गांव पड़ाना, निढानी, शामदो कलां, शामदो खुर्द, रामकली और बिरोली को नशा मुक्त करने के लिए नशों के खिलाफ जागरूकता रैली निकाली।

कश्मीर में छोड़ी अपनी छाप, नशे का कारोबार किया बंद

jamu-kasmir

(डोडा) अशोक कुमार अपनी दुकान में नशा रखते थे जैसे ही उसने पूज्य पिता संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां (jammu kashmir) का गाना जागो दुनियां के लोकों सुना तो उसके मन में नशे के प्रति जागरूकता आई। तो उसने बिना देरी किए ही अपनी दुकान में रखें नशीले पदार्थों जैसे बीड़ी, सिगरेट, पान- मशाला, गुटखा, तम्बाकू और अन्य मादक पदार्थों को बाहर निकाला और सभी को जलाकर नष्ट किया। व्यापारी अशोक जी का कहना हैं कि वह आगे से कभी भी नशे का व्यापार नहीं करेंगे। इस नशे रूपी राक्षस को जड़ से खत्म करने के लिए डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों के साथ कंधे से कन्धा मिलाकर उनका साथ देंगे।

Meerut: डेप्थ मुहिम का तहलका, नशा छोड़ने से बदली तारा सिंह की जिंदगी

Depth campaign

 पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा डेफ्थ मुहिम (Depth campaign) के तहत नशे रूपी दैत्य सहित अन्य सामाजिक बुराइयों से छुटकारा दिलाने का संदेश पिछले दिनों दिया गया था। उनके द्वारा शुरू की गई डेफ्थ मुहिम का असर देखने को मिल रहा है। डेफ्थ मुहिम के तहत किला परीक्षितगढ़ मेरठ ब्लॉक तारा सिंह पुत्र होशियार सिंह निवासी गांव कुंडा नशा छोड़ने के लिए बरनावा आश्रम में सेवा पर गया था।

लोकसभा सांसद ने बताया कैसे डेरा सच्चा सौदा नशों के खिलाफ कर रहा काम….

तारा सिंह ने पूज्य गुरु जी के वचनों पर अमल करते हुए भविष्य में कभी भी नशा न करने का प्रण किया। उन्होंने इसके साथ-साथ अन्य लोगों को भी नशे से दूर रहने के लिए जागरूक करने का संकल्प लिया। तारा सिंह की तरह आज नशों में लिप्त लोग नशे से छुटकारा पाना चाहते हैं। इसी के लिए पूज्य गुरु जी ने ये डेफ्थ मुहिम चलाई है। जिससे दुनिया से नशे को समाप्त किय जा सके।

दुकानदार ने लिया नशा नहीं बेचने का संकल्प

पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा नशे रूपी दैत्य सहित अन्य सामाजिक बुराइयों से छुटकारा दिलाने का संदेश पिछले दिनों दिया गया था। उनके द्वारा शुरू की गई इस मुहिम का असर अब दिखने लगा है। गाँव खैरूवाला में एक दुकानदार सुभाष इन्सां ने पूज्य गुरु जी के वचनों पर अम्ल करते हुए अपनी दुकान में रखे बीड़ी, सिगरेट तम्बाकू और जर्दे के पैकेट निकाले और सड़क पर रख कर आग लगा दी। ब्लॉक भंगीदास रिंकू नागपाल ने बताया कि दुकानदार सुभाष इन्सां ने भविष्य में कभी भी नशे से सम्बन्धित उत्पाद नहीं बेचने का संकल्प लिया।

उन्होंने कहा कि इस के साथ-साथ अन्य लोगों को भी नशे से दूर रहने के लिए जागरूक करने का संकल्प लिया। 45 मैम्बर हरीश बजाज ने कहा कि इस तरह की सामग्री से रोजाना तीन चार हजार की बिक्री होती थी जिसे दुकानदार सुभाष ने अपने सतगुरु की प्रेरणा से त्याग दिया है और नशा मुक्त समाज की मुहिम में अपना योगदान दिया है। इस मौके पर 45 मैम्बर हरीश बजाज, 15 मैम्बर भूपेंदर सोनी, जोगेन्दर इन्सां, अमोलप्रीत, सरपंच शमशेर अली के पिता, मोमन राम, सतीश कुमार और अशोक कुमार टोहाना, मोमन राम, रामनारायण जालप, पवन कुमार, डॉ. रामदास, केसराराम, ओम प्रकाश आदि मौजूद थे।

Saint Dr. MSG की नशों के खिलाफ शुरू की गई DEPTH मुहिम का दिख रहा असर

DEPTH Campaign

नशा एक सामाजिक बुराई है। यह स्वच्छ समाज के लिए कलंक के समान है। नशा करने वाला व्यक्ति स्वयं का परिवार का वादा में समाज का नुकसान करता है। देश के विभिन्न राज्यों पंजाब में नशे की लत विषबेल की तरह फैल गई है। समाज में मादक पदार्थों का सेवन करने वाले एवं समाज में इसको बढ़ाबा देने वाले लोगो का हमें सामाजिक रूप से बहिष्कार करना चाहिए। हमारे लिए बीड़ी गुटखा चिलम तंबाकू ये सब है तन मन धन के डाकू हैं। जो हमें पूरी तरह से बर्बाद कर देते हैं। वहीं हमारी इसी नौजवान व युवा पीढ़ी को नशों से बचाने के लिए इन दिनों (DEPTH CAMPAIGN) डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां रूहानी यात्रा के दौरान आनलाइन सत्संग के माध्यम से नशों के खिलाफ आवाज बुलंद किया।

Depth campaign : चांदपुरा में एक और दुकानदार ने जलाई तंबाकू उत्पादों की होली

Depth campaign

पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां ने पूरे देश को नशा मुक्त बनाने के लिए मुहिम शुरू की है, जिसे डेप्थ (Depth campaign ) नाम दिया है। जिसमें डी अर्थात ड्रग, ई यानि इजेक्ट, पी यानी पीसफुली टी यानि थ्रूआउट और एच यानी हिंदुस्तान से शांतिपूर्वक तरीके से नशे को खत्म करना है। पूज्य गुरु जी के पावन वचनों से प्रभावित होकर जाखल ब्लॉक के गांव चांदपुरा में एक और दुकानदार ने अपनी दुकान से तंबाकू युक्त समग्री निकालकर उसे बाहर रखकर होली जला दी है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here