13 जिलों का अलग मरुप्रदेश बनाने की मांग, निकले ऊंट यात्रा पर

  •  17 दिन में 700 किलोमीटर का सफर तय कर जयपुर पहुंचेगी ऊंट यात्रा
  •  सूबे के मुखिया को सौंपा जाएगा क्षेत्रीय समस्याओं का मांगपत्र

हनुमानगढ़। मरुप्रदेश बनाने की मांग को लेकर श्रीगंगानगर जिले से सोमवार को शुरू हुई ऊंट यात्रा मंगलवार शाम को हनुमानगढ़ पहुंची। बुधवार को हनुमानगढ़ से ऊंट यात्रा रावतसर के लिए रवाना हुई। इससे पहले बुधवार सुबह जंक्शन धानमंडी में ऊंट यात्रा की अगुवाई कर रहे मरुप्रदेश निर्माण मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष जयवीर गोदारा व यात्रा संयोजक मनिन्द्रसिंह मान का भारतीय किसान यूनियन जिलाध्यक्ष रेशमसिंह, जगतार सिंह सहित अन्य किसान नेताओं ने स्वागत किया। इस मौके पर मरुप्रदेश निर्माण मोर्चा के प्रदेशाध्यक्ष जयवीर गोदारा ने बताया कि किसान आंदोलन में 700 से ज्यादा किसान शहीद हो गए थे। उनकी याद में और नेताजी सुभाषचन्द्र बोस की जयंती के उपलक्ष्य पर मरुप्रदेश निर्माण को लेकर यात्रा की शुरुआत की गई है।

गोदारा ने बताया कि मरुप्रदेश निर्माण मोर्चा साल 2009 में भी बीकानेर से जयपुर तक हजारों ऊंट गाडिय़ों के साथ यात्रा कर चुका है। इस बार पहले वाली यात्रा से बड़ी यात्रा होगी। ये यात्रा पांच जिलों और 22 विधानसभाओं से होकर गुजरेगी। यात्रा 17 दिन में 700 किलोमीटर से ज्यादा का सफर तय कर जयपुर पहुंचेगी। उन्होंने बताया कि मरुप्रदेश निर्माण मोर्चा पिछले 13 सालों से पश्चिमी जिलों का अलग प्रदेश बनाने को मांग को लेकर संघर्ष कर रहा है।

यात्रा संयोजक मनिन्द्रसिंह मान ने बताया कि यह महायात्रा 13 जिलों का अलग राज्य बनाने, किसानों की 33 जिन्सों को एमएसपी की गारंटी कानून बनवाने, बॉर्डर के एरिया को विशेष राज्य का दर्जा दिलवाने, टोल मुक्त राज्य, आम उपभोक्ताओं को 300 यूनिट और किसानों को मुफ्त बिजली दिलवाने, आम आदमी को आत्मरक्षा के लिए हथियार लाइसेंस जारी करवाने, सैनिक प्रदेश होने पर सैनिकों के परिवारों को सुरक्षा की गारंटी कानून बनवाने, किसान को जमीन का मालिकाना हक दिलवाने, बुजुर्गों को 3000 रुपए बुढ़ापा पेंशन, बेरोजगारों को 10 हजार रुपए बेरोजगारी भत्ता, पेपर माफियाओं, नदी बजरी माफिया और खनिज माफियाओं के खिलाफ टाडा जैसा कानून बनवाने, लड़कियों को पीएचडी तक शिक्षा मुफ्त दिलवाने, शेखावाटी नहर की बजट में घोषणा समेत 33 सूत्रीयों मांगों को लेकर निकाली जा रही है। जयपुर पहुंचकर इन समस्याओं को लेकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here