साहिबजादी बहन हनीप्रीत इन्सां ने ट्वीट कर पहलवानों को दी बधाई

कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 का 8वां दिन भारतीय पहलवानों के नाम रहा

  • भारत को पहलवानों ने दिलाए छह पदक
  • मेडल टैली में भी हुआ भारत को फायदा

चंडीगढ़ (एमके शायना)। भारत गुरु पीरों का देश है। पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के वचन हैं कि भारत में बहुत टैलेंट भरा पड़ा है, अगर नौजवान नशे और बुराइयां छोड़कर अपने टैलेंट को सही दिशा में लगाएं तो वह भारत देश का नाम रोशन कर सकते हैं। ऐसे ही कई युवा हैं जो देश के लिए मर मिटने को तैयार हैं, देश का नाम पूरी दुनिया में रोशन कर रहे हैं और भारत के लिए मेडल लेकर आ रहे हैं। सबको पता है कि कॉमनवेल्थ गेम्स में भारत ने पूरी धाक जमाई हुई है। हर रोज भारत की झोली में अच्छे मेडल आ रहे हैं। देश के युवा को बदलने के लिए, उनका मनोबल बढ़ाने के लिए साहिबजादी बहन हनीप्रीत इन्सां ट्वीट कर लगातार भारत की जीत का जश्न मना रही हैं।

आज भी भारत की झोली में 6 पदक आए हैं। जिसकी खुशी में बहन हनीप्रीत इन्सां ने सभी पहलवानों की हौसला अफजाई करते हुए ट्वीट कर लिखा ….

  • “जीतने की होड़ में पहलवान! साक्षी मलिक, बजरंग पुनिया और दीपक पुनिया को स्वर्ण पदक, अंशु मलिक को रजत और मोहित ग्रेवाल और दिव्या काकरान को राष्ट्र के लिए कांस्य पदक जीतने पर बधाई!”
    #CommomWealthGames2022

आपको बता दें बजरंग पूनिया, साक्षी मलिक और दीपक पूनिया ने गोल्ड मेडल हासिल किया। वहीं अंशु मलिक समेत अन्य तीन भारतीय रेसलर्स भी पदक जीतने में कामयाब रहे। उधर टेबल टेनिस और लॉन बॉल्स से भी भारत के लिए अच्छी खबर सामने आई।

मेडलों की शुरूआत किस प्रकार हुई:-

अंशु मलिक ने सिल्वर जीत की शुरूआत

सबसे पहले अंशु मलिक ने वूमेन्स 57 किलो भारवर्ग में सिल्वर मेडल हासिल किया। फाइनल में अंशु का सामना नाइजीरिया की ओडुनायो फोलासाडे से था लेकिन अंशु को 3-7 से हार का सामना करना पड़ा। कॉमनवेल्थ गेम्स में ओडुनायो का यह लगातार तीसरा गोल्ड मेडल रहा। हार के बाद अंशु काफी निराश दिखाई दी।

बजरंग-साक्षी और दीपक का गोल्डन दांव

Commonwealth Games

फिर बजरंग पूनिया ने उम्मीदों के मुताबकि प्रदर्शन करते हुए भारत के लिए गोल्ड मेडल जीता। पुरुषों की फ्रीस्टाइल 65 किलो भारवर्ग के फाइनल में बजरंग पूनिया ने कनाडा के एल. मैकलीन को 9-2 मात दी। बजरंग पूनिया का यह कॉमनवेल्थ गेम्स में लगातार दूसरा गोल्ड एवं ओवआॅल तीसरा मेडल रहा। वहीं साक्षी मलिक ने वूमेन्स 62 किलो भारवर्ग के फाइनल में कनाडा की एना गोडिनेज गोंजालेज को बाय फॉल के जरिए 4-4 से मात देकर पीला तमगा हासिल किया। बाद में दीपक पूनिया ने 86 किलो कैटेगरी में पाकिस्तानी रेसर मोहम्मद इनाम को 3-0 से मात देकर भारत को दिन का तीसरा गोल्ड मेडल दिलाया।

मोहित-दिव्या ने भी जीते मेडल

दिव्या काकरान ने भी गोल्ड नहीं जीत पाने की टीस को ब्रॉन्ज हासिल कर खत्म करने की कोशिश की। दिव्या ने वूमेन्स फ्रीस्टाइल के 68 किलो भारवर्ग में ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में टोंगा की टाइगर लिली कॉकर लेमाली को बाय फॉल के जरिए 2-0 से मात दी। वहीं मोहित ग्रेवाल (125 किलो) ने जमैका के एरॉन जॉनसन को बाय फॉल के ही जरिए 0-6 से रौंद डाला।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here