मातृ दिवस: पूज्य माता नसीब कौर जी इन्सां ने दीप प्रज्वलित कर की कार्यक्रम की शुरुआत

Mother's Day sachkahoon

सेंट एमएसजी ग्लोरियस इंटरनेशनल स्कूल में वॉव थीम पर मनाया गया मातृ दिवस

सरसा (सच कहूँ न्यूज)। सेंट एमएसजी ग्लोरियस इंटरनेशनल स्कूल (गर्ल्स विंग) में शनिवार को वॉव थीम के अंतर्गत मातृ दिवस (Mother’s Day) बड़ी धूम-धाम व उत्साह के साथ मनाया गया। कार्यक्रम की शुरूआत पूज्य माता नसीब कौर जी इन्सां (पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के पूजनीय माता जी) ने दीप प्रज्वलित करके की।

इस मौके पर उनके साथ विद्यालय की प्रधानाचार्या पूनम अरोड़ा, प्रशासिका अल्का मोंगा, शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल की प्रधानाचार्या डॉ. शीला पूनिया व मीनू सबरवाल मौजूद रही। इसके पश्चात कार्यक्रम में मौजूद सभी माताओं का तिलक लगाकर व टैग लगाकर कार्यक्रम को आगे बढ़ाया गया। कार्यक्रम में विद्यालय की छात्रा साहिबा और उनकी मां शिखा सेठी को मिस वॉव मॉम टाइटल के खिताब से सम्मानित किया गया।

वहीं पूज्य माता नसीब कौर जी इन्सां, माता हरजीत कौर जी इन्सां, हुस्नमीत जी इन्सां, साहिबजादी बहन चरणप्रीत कौर इन्सां, बहन अमरप्रीत कौर जी इन्सां व शाह सतनाम जी गर्ल्स स्कूल की प्रधानाचार्या डा. शीला पूनिया इन्सां सहित निर्णायक मंडल को कार्यक्रम में पधारने पर स्कूल प्रबंधन द्वारा उपहार देकर सम्मानित किया गया।

Mother's Day sachkahoonमाताओं ने किया अपने लाडले-लाडलियों के साथ रैंप वॉक

कार्यक्रम की शुरूआत में मौजूद सभी माताओं के स्वागत के लिए प्राथमिक कक्षा के विद्यार्थियों द्वारा स्वागत गीत और कक्षा छठी, सातवीं व आठवीं के विद्यार्थियों ने स्वागत नृत्य की प्रस्तुती दी। वहीं इस दौरान सभी माताओं के लिए एक प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। जिसकी शुरूआत रैम्प वॉक से हुई।

थीम के अनुसार सभी माताओं ने अपने लाडलों और लाडलियो के साथ रैम्प वॉक किया। सभी माताओं ने अपने टैग नंबर के अनुसार सुन्दर वेशभूषा में वॉक की विभिन्न प्रस्तुतियां दी और सभी दर्शकों ने भी तालियों की गड़गड़ाहट के साथ उनका अभिनन्दन किया।

अफसाना-ए-मीत ने माताओं के सम्मान में दी सोलो डांस की प्रस्तुती

कक्षा पाँचवी के विद्यार्थी अफÞसाना-ए-मीत ने सभी माताओं के सम्मान में सोलो डांस की मनमोहक प्रस्तुति दी। कक्षा छठी की छात्रा शायरा और कक्षा आठवीं की छात्रा सिमरन ने मां को समर्पित कविताओं से सबको भावुक कर दिया। तू कितनी अच्छी है…, मावां मावां मावां…, अच्युतम केशव कृष्ण दामोदरम, बावन गज का घूंघट, तेरी उँगली पकड़ के चला इत्यादि गीतों पर अपनी प्रस्तुतियां दी।

जिन्हें देखकर दर्शक हतप्रभ रह गए और अपनी मां की याद को याद करके सबकी आँखे नम हो गई। स्कूल ने सभी मदर टीचर ने भी मंच पर रैम्प वॉक किया। प्रतियोगियों के लिए रोचक गेम रखे गए व सभी प्रतिभागियों में से विनर्स को सर्टिफिकेट्स और गिफ्ट देकर सम्मानित किया गया। कार्यक्रम में निर्णायक मंडल के रूप में पहुंची डॉ. दीपिका शर्मा, डॉ. रंजना ग्रोवर, सरबजीत गगनेजा, सुचारू फूटेला को उनके टैग देकर मंच पर सम्मानित किया।

‘‘मां केवल एक शब्द नहीं, एक एहसास है जो हमें जीवन ही नहीं देता बल्कि जीवन को समझने, उसे महसूस करने और उसे जीने को एक अर्थ देता है। मां शब्द हमारे जीवन का सारांश है। जिसे देखने भर से ही हम स्वर्ग जैसी अनुभूति करते हैं। उन्हीं मां को समर्पित एक दिन मातृ दिवस जो हमें हमारी मां द्वारा किए गए उपकारो के लिए कृतज्ञता व्यक्त करने के लिए मनाया जाता है।

पूनम अरोड़ा इन्सां, प्रिंसीपल सेंट एमएसजी ग्लोरियस इंटरनेशनल स्कूल सरसा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here