बदहाली पर आँसू बहा रहा नेहरू पार्क

0
140
Nehru-Park

प्रशासन की आमजन को बेहतरीन सुविधाओं के दावों की खुली कलई

  • टूटे झूलों और ओपन जिम के सामान की सुध नहीं ले रहे अधिकारी

सच कहूँ/बिन्टू सिंह नरवाना। प्रशासन की अनदेखी के कारण नेहरू पार्क की हालत दिन-ब-दिन दयनीय होती जा रही है। क्योंकि पार्क की सुविधाओं को लेकर प्रशासन बिल्कुल गंभीर नहीं है। लोगों ने कहा कि जब कोई बजट आता है तो अधिकारी लोगों के सामने आकर बेहतर सुविधाएं उपलब्ध करवाने का ढिंडोरा पीटते हैं। लेकिन जब सुविधाओं के रख-रखाव की बात आती है तो वे पार्क से बहुत दूर नजर आते हैं। पार्क के पहुंचे रामफल, अनिल, सोनू, प्रीति, सरोज, बलकार ने कहा कि वे हर रोज पार्क में आते हैं। लेकिन पिछले कई माह से किसी अधिकारी ने पार्क का दौरा नहीं किया। जिस कारण अन्य विभागों के अधिकारी भी अपनी जिम्मेवारियों को भूल गए हैं। लोगों ने कहा कि पार्क में बच्चों के लिए लगाए गए झूले एक-एक करके टूट रहे हैं।

जिस कारण पार्क में आने वाले बच्चों की संख्या भी कम हो गई है। इसके अलावा लोगों की कसरत के लिए प्रशासन द्वारा यहां ओपन जिम के उपकरण लगवाए थे। वे भी टूटे पड़े हैं। जिस कारण प्रशासन द्वारा दी गई ये सुविधा मात्र दिखावा नजर आ रही है। लोगों ने कहा कि अधिकारी लोगों को शहर के रख-रखाव व अन्य अच्छी बातों के लिए जागरूक करने के लिए कार्यक्रमों में बड़े-बड़े भाषण देते हैं। लेकिन जब उनकी खुद की जिम्मेवारी की बात आती है तो वे अपने दफ्Þतर से बाहर जाकर शहर की दशा को भी देखना पंसद नहीं करते और जिस कारण शहर में कई प्रकार की समस्याएं लोगों के सामने खड़ी हो जाती हैं।

शौचालय की हालत बदतर

लोगों ने कहा कि नेहरू पार्क की सुदंरता अब फीकी पड़ने लगी है। शौचालय की हालत तो ऐसी बनी हुई है तो लोग मुंह पर कपड़ा बांधकर भी इसमें जाना पंसद नहीं करते। लोगों ने कहा कि वे खुद सफाई का ध्यान रखते हुए पार्क का इस्तेमाल करते हैं। लेकिन प्रशासनिक अधिकारी यहां की सफाई को लेकर बिल्कुल भी गंभीर नहीं है। लोगों ने कहा कि जब अधिकारी ही अपनी जिम्मेवारियों पर खरे नहीं उतरेंगे तो आम आदमी से प्रशासन क्या उम्मीद कर सकता है?

खुले पड़े मेनहॉल-

नेहरू पार्क में कई मेनहॉल खुले पड़े हैं। जिसके कारण छोटे बच्चों के गिरने का डर बना रहता है। लोगों का कहना है कि पार्क में सभी खुले मेनहॉल बंद करवाए जाएं ताकि कोई अनहोनी घटना ना घटे। वहीं मुख्य गेट के दोनों ओर लगे फव्वारे भी बंद पड़े हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।