पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन से साध-संगत में खुशी की लहर

ब्लाक लुधियाना की साध-संगत ने कहा, मानवता भलाई कार्यों को मिलेगी रफ्तार

  • ब्लाक की साध-संगत ने मिठाइयां बांटकर और नाच गाकर किया खुशी का इजहार

लुधियाना। (सच कहूँ/रघबीर सिंह) डेरा सच्चा सौदा, सरसा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां के शुभ आगमन से समूह साध-संगत में खुशी की लहर दौड़ गई है। साध-संगत द्वारा अपने-अपने घरों में खुशी में दीपमाला की जा रही है। अरदास कर पूज्य गुरु जी का शुक्राना किया जा रहा है। पूज्य गुरु जी के शाह सतनाम जी आश्रम, बरनावा, जिला बागपत, यूपी दरबार पहुंचने की खबर लगते ही साध-संगत एक-दूसरे को पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन पर बधाईयां दे रही है। डेरा श्रद्धालुओं ने सच कहूँ के माध्यम से अपनी खुशियां कुछ इस तरह व्यक्त की।

यह भी पढ़ें:– हरियाणा के गांव शहर होंगे चकाचक, पूज्य गुरु जी करेंगे शुभारंभ

संदीप इन्सां, 45 मैंबर, लुधियाना ने कहा कि पूज्य गुरु जी के आने से हमारे अंदर जो उत्साह पैदा हुआ है, वह कहने-सुनने से परे है। साध-संगत पूज्य गुरु जी के वचनों पर पूरा-पूरा अमल करेगी। सफाई अभियान और पावन भंडारे पर जाने के लिए साध-संगत के अंदर जोश पूरा ठाठें मार रहा है। वचन मानने की भक्ति साध-संगत जरुर करेगी। दर्शन देने और आशीर्वाद देने के लिए पूज्य गुरु जी का कोटि-कोटि धन्यवाद।

जसवीर सिंह इन्सां, 45 मैंबर ने कहा कि पूज्य गुरु जी द्वारा दर्शन देकर अपार कृपा की गई है, इसलिए पूज्य गुरु जी का धन्यवाद। पूज्य गुरु जी ने जो पावन वचन साध-संगत के लिए फरमाए हैं, साध-संगत उन वचनों पर पूरा-पूरा अमल करेगी। सुमिरन के साथ-साथ मानवता की सेवा के अलावा वचन मानने की भक्ति जरुर करेगी। एड्म ब्लाक द्वारा जो भी सेवादार संदेश लेकर आएंगे, उस संदेश पर साध-संगत पूरी तरह से पेहरा दिया जाएगा। पूज्य गुरु जी और डेरा श्रद्धालुओं ने हमेशा मानवता भलाई कार्यों को प्राथमिकता दी है और अब भी देती रहेगी। पूज्य गुरु जी के पावन चरणों में अरदास है कि साध-संगत को दर्शनों रुपी अमृत देते रहेंगे जी।

जोगिंद्र पाल टोनी इन्सां, 25 मैंबर, मंडी गोबिंदगढ़ ने कहा कि पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन से जहां आत्मा को ताजगी मिली है वहीं साध-संगत अंदर भी भारी उत्साह पैदा हुआ है। साध-संगत पूज्य गुरु जी के पावन वचनों के अनुसार पहले ही अनुशासन में रहकर मानवता भलाई कार्य जोरों-शोरों से करती आ रही है और आगे भी उक्त वचनों पर अमल करती रहेगी। साध-संगत प्रशासन का पूरा सहयोग करेगी। मेघराज इन्सां, लुधियाना ने कहा कि पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन से आत्मा को अपना मालिक मिल गया। जैसे शरीर में जान आ गई हो। इस तरह लगता है कि जैसे मरुस्थल में प्यासे को अमृत मिल गया हो। पूज्य गुरु जी का धन्यवाद है, जिन्होंने तड़पती रूह को नूरानी दर्शन देकर शांत किया।

कृष्ण जुनेजा इन्सां, 15 मैंबर, लुधियाना ने कहा कि पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन से आत्मा खुशी के समुंद्र में गोते लगाती महसूस कर रही है। आत्मा में पूज्य गुरु जी के नूरानी दर्शनों से प्रकाश फैल गया महसूस हो रहा है। हम पूज्य गुरु जी का देन नहीं दे सकते। पूज्य गुरु जी ने हमें दर्शन देकर बेहद उपकार किया है। ब्लाक भंगीदास पूर्ण चंद इन्सां लुधियाना ने कहा कि पूज्य गुरु जी ने रहमत कर साध-संगत को दर्शन दिए हैं। उसका शुक्राना शब्दों में ब्यान नहीं किया जा सकता। पूज्य गुरु जी के शुभ आगमन से साध-संगत के अंदर नया उत्साह पैदा कर दिया है।

साध-संगत के मुरझाए चेहरों पर रौनक आ गई है। अब दौगुणे उत्साह के साथ साध-संगत मानवता भलाई कार्यों में जुट गई है। कैप्टन हरमेश इन्सां, 15 मैंबर, लुधियाना ने कहा कि पूज्य गुरु जी के दर्शन कर रुह को सुकून मिला है, जीभा में ताकत नहीं जो इसका वर्णन कर सके। तपते ह्दयों को ठंडक पहुंचाने के लिए पूज्य गुरु जी का तहदिल से धन्यवाद।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here