पंजाब में नहीं हुई ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत, केंद्र को भी यही भेजा डाटा

0
133
punjab

ऑक्सीजन की कमी दौरान पंजाब में मौतें होने की आई थीं खबरें

  • पंजाब सरकार ने नकारा, अमृतसर में 6 मौतें भी ऑक्सीजन की कमी से नहीं हुई

  • लुधियाना में ऑक्सीजन की कमी से मौतें थी सिर्फ अफवाहें

सच कहूँ/अश्वनी चावला चंडीगढ़। पंजाब भर में ऑक्सीजन की कमी से एक भी मौत नहीं हुई है, कोरोना महामारी दौरान जो भी मौतें हुई, वह तीसरी स्टेज पर पहुँचने के चलते ही हुई हैं। इन मौतों का ऑक्सीजन की कमी से कुछ भी लेना-देना नहीं है। जब कि दूसरी लहर दौरान यह खबरें आ रही हैं कि लुधियाना और अमृतसर में ऑक्सीजन की कमी से मौतें हुई हैं। पंजाब सरकार ने इन दोनों जिलों की खबरों को गलत करार दे दिया है। लुधियाना के डिप्टी कमिशनर की ओर से मौके पर ही लुधियाना में हुई मौतें को अफवाह करार दे दिया था तो अमृतसर के प्राईवेट अस्पताल में हुई 6 मौतों संबंधी भी जांच के बाद साफ कर दिया गया कि यह मौतें ऑक्सीजन की कमी कारण नहीं हुई हैं, जिस कारण केंद्र सरकार को पंजाब की तरफ से भेजी गई रिपोर्ट में निल दिखाया गया है।

इस रिपोर्ट के आधार पर सांसद सैशन दौरान केंद्र सरकार ने आॅक्सीजन की कमी से मौतें होने से साफ इन्कार कर दिया है। जानकारी के अनुसार देश में दो महीने पहले आई दूसरी लहर दौरान अप्रैल के आखिरी और मई के पहले हफ़्ते आॅक्सीजन की भारी कमी हो गई थी। इस दौरान देश के साथ-साथ पंजाब में भी ऑक्सीजन की भारी कमी हो गई थी। पंजाब सरकार की ओर से बड़े स्तर पर इंतजाम करते हुए देश के कोने-कोने से ऑक्सीजन पंजाब के लिए लाई गई थी।

इस दौरान पंजाब के अमृतसर में 24 -25 अप्रैल को यह खबर आई थी कि ऑक्सीजन की कमी के चलते 6 मरीजों ने दम तोड़ दिया है तो मुख्यमंत्री अमरिन्दर सिंह ने इसकी जांच के आदेश भी जारी कर दिए थे। यहीं मई के दूसरे हफ़्ते लुधियाना में भी ऑक्सीजन की कमी के चलते मौतें होने की खबर आई थी परन्तु इस मामले में लुधियाना के डिप्टी कमिशनर ने तुरंत कार्यवाही करते हुए जानकारी दी थी कि लुधियाना में कोई भी मौत ऑक्सीजन की कमी के चलते नहीं हुई है। जिसके बाद पंजाब सरकार ने केंद्र सरकार को भी रिपोर्ट भेजी है, जिसमें पंजाब सरकार की ओर से आॅक्सीजन की कमी के साथ मौतों का आंकड़ा ‘निल’ दिखाया गया है। इसलिए सिर्फ पंजाब सरकार ही नहीं बल्कि केंद्र सरकार के रिकार्ड अनुसार भी पंजाब में एक भी मौत आॅक्सीजन की कमी से नहीं हुई है।

ऑक्सीजन की कमी नहीं सरकार की गलतियों से हुई लोगों की मौत : प्रियंका

मरीज नहीं हम जूझते रहे ऑक्सीजन की कमी के साथ: पंजाब सरकार

पंजाब सरकार की तरफ से कोरोना महामारी के लिए बनाए गए नोडल अधिकारी डॉ. राजीव भास्कर ने बताया कि पंजाब में किसी भी मरीज को होने तक ऑक्सीजन की कमी नहीं आने दी गई है। जबकि आॅक्सीजन की कमी के साथ पंजाब सरकार और उनके अधिकारी जूझते रहे हैं। पंजाब में उस समय बड़ा टॉक्स था कि किस तरीके साथ दूर दराज के इलाके से आॅक्सीजन पंजाब में लाकर जरूरत वाले अस्पतालों में पहुंचाई जाये। इस लिए सरकार के आधिकारियों ने 24 घंटे काम किया और पंजाब में एक मरीज कीऑक्सीजन से मौतें होना तो दूर किसी भी मरीज को आॅक्सीजन की कमी तक नहीं आने दी गई है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।