घायल को एंबुलेंस में लेकर एसपी कार्यालय, विधायक निवास पर पहुंचे परिजन

0
221
Deadly attack

हमलावरों की जल्द से जल्द गिरफ्तारी की मांग (Deadly attack)

श्रीगंगानगर (सच कहूँ न्यूज)। कोतवाली क्षेत्र में कुछ युवकों द्वारा एक युवक को रात्रि को रुपए देने के बहाने जस्सासिंह मार्ग पर बुलाकर तलवार व अन्य घातक हथियारों से हमला कर बुरी तरह से जख्मी क कचरे के ढेर में फेंक देने की घटना में शामिल सभी मुलजिमों की गिरफ्तारी की मांग को लेकर आज परिवारजनों अगुवाई में लोगों ने पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर प्रदर्शन किया। विधायक निवास पर जाकर सारे घटनाक्रम की जानकारी देते हुए मांग की कि सभी मुलजिमों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करवाया जाए।

विगत दो-तीन जुलाई की रात को सेतिया कॉलोनी निवासी युवक निश्चय नारंग (21) को जस्सासिंह मार्ग पर बसंती चौक में बुलाकर आधा दर्जन से अधिक युवकों ने हमला कर घायल कर दिया था। वह बाद में इसी मार्ग पर एक टाइल फैक्ट्री के बाहर कचरे में पड़ा मिला। उसका कान कटा हुआ था। सिर में भी घातक वार किए हुए थे। इस मामले में पुलिस ने स्थानीय एच ब्लॉक निवासी एक युवक अंकित सेतिया को गिरफ्तार किया है। उसके नाबालिक भाई को निरुद्ध किया है। इस मामले में कई युवक फरार हैं, जिनमें एक अधिवक्ता का पुत्र भी है। घटना के 20 दिन बाद भी सभी मुलजिमों की गिरफ्तारी नहीं होने पर आज निश्चय को परिवारजन ने घायल अवस्था में एंबुलेंस में लेकर प्रदर्शन करते हुए पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर गए।

पुलिस अधीक्षक ने 2 दिन में सभी को गिरफ्तार करने का आश्वासन दिया। बाद में परिवार जन गगन पथ पर वृंदावन विहार कॉलोनी में विधायक राजकुमार गौड़ के निवास पर गए। उनको सारे घटनाक्रम से अवगत करवाया। याद रहे कि इस घटना के अगले ही दिन कुछ युवकों ने हनुमानगढ़ मार्ग पर चहल चौक के पास सीजीआर मॉल वाली गली में घुसकर मारपीट की घटना को अंजाम दिया था। इस घटना को लेकर जवाहरनगर थाना में मुकदमा दर्ज करवाने वाला युवक निश्चय नारंग के साथ हुई मारपीट में कोतवाली पुलिस को वांछित है।

उसके समेत कई युवक फरार चल रहे हैं। जवाहरनगर पुलिस ने सीजीआर मॉल वाली गली में हुई घटना के संबंध में पांच युवकों को गिरफ्तार कर लिया लेकिन निश्चय के मामले में एक बाल अपचारी सहित सिर्फ दो को ही पकड़ा गया है जबकि वारदात में आधा दर्जन से अधिक युवक शामिल हैं। इस मामले के जांच अधिकारी सेतिया कॉलोनी पुलिस चौकी के प्रभारी सब इंस्पेक्टर पवन कुमार ने बताया कि बाकी मुलजिमों की अभी जांच पड़ताल चल रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।