Honesty : नकदी-कपड़ों से भरा बैग लौटाया

0
214
Show honesty by returning 25 thousand rupees

हनुमानगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। ईमानदारी आज भी जिन्दा है इसमें कोई शक नहीं। ऐसा ही उदाहरण पेश किया है हनुमानगढ़ डिपो में परिचालक पद पर कार्यरत धीरज कुमार ने। उन्होंने रोडवेज बस में भूलवश छूटे नकदी एवं कपड़ों से भरे बैग को उसके मालिक तक पहुंचा ईमानदारी की मिसाल कायम की। जानकारी के अनुसार हनुमानगढ़ निवासी रोडवेज बस में परिचालक धीरज कुमार की ड्यूटी शुक्रवार को हनुमानगढ़ से बीकानेर मार्ग पर थी। वे रोडवेज बस नम्बर आरजे 13 पीए 6168 में बीकानेर से हनुमानगढ़ रवाना हुए। उसी बस में सुरेन्द्र कुमार नामक यात्री सफर कर रहा था। सुरेन्द्र कुमार गन्तव्य स्थान पर उतरते समय अपना काले रंग का बैग जिसमें कपड़े एवं 80 हजार रुपए की नकदी थी, बस में ही भूल गया।

बस के परिचालक धीरज कुमार को जब इस बारे में पता चला तो उसने उस बैग को हनुमानगढ़ पहुंचने पर रोडवेज प्रशासन को सूचना देने के बाद रोडवेज डिपो में जमा करवा दिया। बाद में जब यात्री सुरेन्द्र कुमार ने परिचालक धीरज कुमार से सम्पर्क किया तो परिचालक ने बैग सुरक्षित होने की बात कही। शनिवार को रोडवेज के मुख्य प्रबंधक दीपक भोभिया एवं संगणक विकास नैण की मौजूदगी में परिचालक धीरज कुमार ने उक्त बैग सुरेन्द्र कुमार को लौटा दिया। सुरेन्द्र कुमार ने इसके लिए परिचालक धीरज कुमार का आभार व्यक्त किया। वहीं रोडवेज के मुख्य प्रबंधक दीपक भोभिया ने धीरज कुमार की ईमानदारी की सराहना करते हुए कहा कि ऐसे कर्मचारियों की बदौलत रोडवेज की साफ छवि आमजन में विश्वास पैदा करती है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlinked in , YouTube  पर फॉलो करें।