हरियाणा-112 इमरजेंसी नंबर पर पहले 64 घंटों में 2788 लोगों ने ली पुलिस सहायता

0
219
Haryana-112 sachkahoon

बेस्ट कॉल रिसीवर, बेस्ट कॉल डिस्पैचर और बेस्ट ईआरवी वाहन को किया जाएगा पुरस्कृत

सच कहूँ/अनिल कक्कड़, चंडीगढ़। हरियाणावासियों को 24 घंटे सुरक्षा प्रदान करने के उद्देश्य से मुख्यमंत्री मनोहर लाल द्वारा आपातकालीन हेल्पलाइन नंबर हरियाणा 112 की शुरूआत के बाद 13 जुलाई सुबह 8:00 बजे से शुक्रवार दोपहर तक यानी पहले 64 घंटों में कुल 36083 कॉल प्राप्त हुई हैं। उल्लेखनीय है कि 12 जुलाई को इस परियोजना की शुरूआत की गई थी। अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक, दूरसंचार एवं आईटी अरशिंदर सिंह चावला (जो हरियाणा 112 परियोजना के नोडल अधिकारी भी हैं) ने शुक्रवार को कहा कि प्रदेश सरकार की मंशा थी कि आम जनता को पुलिस सहायता, फायर और एंबुलेंस के लिए अलग-अलग नंबर डायल न करना पड़े बल्कि एक सिंगल नंबर पर ही यह सभी आपातकालीन सेवाएं आसानी से व त्वरित मिल सके।

16 घंटों में आई 12871 कॉल

13 जुलाई सुबह 8 बजे से इमरजेंसी रिस्पांस स्पोर्ट सिस्टम (ईआरएसएस) ने पंचकूला में स्टेट इमरजेंसी रिस्पांस सेंटर (एसईआरसी) और गुरुग्राम में एमईआरसी के माध्यम से 601 आपातकालीन प्रतिक्रिया वाहनों (ईआरवी) के साथ काम करना शुरू कर दिया। उन्होंने कहा कि 13 जुलाई से कुल प्राप्त कालों में से 12871 कॉल पहले 16 घंटों में, 12454 कॉल 14 जुलाई को अगले 24 घंटों में और 10758 कॉल 15 जुलाई को आई। इनमें से 1293 मिस्ड कॉल थी, जिसमें से 13 जुलाई को 440 कॉल, 14 जुलाई को 512 और 15 जुलाई को 341 कॉल प्राप्त हुईं।

उन्होंने बताया कि हरियाणा 112 नंबर पर 2788 कॉल उन लोगों से मिली, जिन्हें मदद की वास्तविक जरूरत थी। चावला ने बताया कि परियोजना के क्रियान्वयन होने के बाद प्राप्त कुल कॉल में से पहले 16 घंटों में 853 वाहन इमरजेंसी लोकेशन पर सहायता के लिए भेजे गए, 14 जुलाई को 924 वाहन और 15 जुलाई को 1011 वाहनों को भेजकर नागरिकों को पुलिस, एंबुलैंस व फायर संबंधी सुविधा मुहैया करवाई गई। उन्होंने बताया कि 13 जुलाई को एकीकृत आपातकालीन हेल्पलाइन नंबर 112 पर आई कॉल के बाद लोकेशन पर भेजे गए 853 वाहनों में से 780 ने पुलिस सहायता के लिए, 98 ने एम्बुलेंस सेवाओं और 30 ने अग्निशमन सेवाओं के लिए अनुरोध किया था। कुल 853 डिस्पैच कॉलों में से, 55 कॉल मल्टी-सर्विस से संबंधित थी।

इस प्रकार रहा कॉल्स का ब्यौरा

इसी प्रकार, 14 जुलाई को ‘हरियाणा-112’ में प्राप्त 924 कार्रवाई योग्य कॉलों में से 870 कॉल पुलिस सहायता से संबंधित थीं, 92 एम्बुलेंस के लिए और 16 लोगों ने अग्निशमन सेवाओं के लिए अनुरोध किया था। कुल 924 कॉलों में से, 54 कॉल मल्टी-सर्विस से संबंधित थी। इसी प्रकार, 15 जुलाई को प्राप्त 1011 कार्रवाई योग्य कॉल में से 942 कॉल पुलिस सहायता से संबंधित थीं, 108 एम्बुलेंस के लिए और 10 लोगों ने अग्निशमन सेवाओं के लिए अनुरोध किया था। कुल डिस्पैच कॉल में से, 49 कॉल मल्टी-सर्विस से संबंधित थी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।