आईटीबीपी ने मनासलु चोटी पर फहराया तिरंगा

0
107
ITBP hoisted the tricolor sachkahoon

शिमला (एजेंसी)। हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिला के कनई निवासी आईटीबीपी में उप सेनानी अनूप नेगी व कमांडेंट रतन सिंह ने नेपाल में समुद्र तल से 8163 मीटर ऊंची पर्वत चोटी मनासलु पर तिरंगा फहराया। आईटीबीपी के दो अधिकारी सहित अन्य देशों के छह पर्वतारोही दल ने मनासलु चोटी पर चढ़ने में सफलता पाई है। यह दुनिया की आठवीं सबसे ऊंची चोटी है, जिसकी समुद्र तल से ऊंचाई 8163 मीटर (26781 फीट) है। अनूप नेगी की सफलता से जिला किन्नौर व कनई गांव के लोगों में खुशी का माहौल है। आइटीबीपी में उप सेनानी अनूप नेगी ने बताया कि 11 सितंबर को काठमांडू से यह अभियान शुरू हुआ था तथा 15 दिन में वापस बेस कैंप पहुंचे इस दौरान दल को बर्फबारी, माइनस तापमान और अधिक ऊंचाई का सामना करना पड़ा।

आईटीबीपी के अधिकारियों में डिप्टी कमांडेंट अनूप कुमार और कमांडेंट रतन सिंह शामिल थे। दोनों पहले भी कई कीर्तिमान स्थापित कर चुके हैं। आईटीबीपी के इन अधिकारियों ने नंदा देवी पर हुए रेस्क्यू ऑपरेशन डेयरडेविल्स का भी नेतृत्व किया था। जुलाई, 2019 में हुए इस ऑपरेशन में चार विदेशी नागरिकों को रेस्क्यू किया गया था। रेस्क्यू टीम ने 20 हजार फीट की ऊंचाई से सात शव भी रिकवर किए थे। वही, 31 अक्टूबर 2019 को केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा साहसिक सेवा के लिए ‘केंद्रीय गृह मंत्री विशिष्ट ऑपरेशन पदक’ से अनूप नेगी को सम्मानित किया जा चुका है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।