तेलंगाना: मौसम विभाग की चेतावनी, 30 सितंबर को भारी बारिश की संभावना

Fault, Weather, Farmer, Villagers

हैदराबाद (एजेंसी)। तेलंगाना के कुछ जिलों में अगले 24 घंटों में भारी बारिश होने की संभावना है, जिसमें कोमरम भीम आसिफाबाद, भद्राद्री कोठागुडम, नलगोंडा, यादाद्री भुवनगिरी, रंगारेड्डी, हैदराबाद, मेड्चल मल्काजगिरि, विकाराबाद, संगारेड्डी, महबूबनगर और नागरकुरनूल शामिल हैं। मौसम विभाग ने अपने दैनिक मौसम रिपोर्ट में गुरुवार को कहा कि कल राज्य के रंगारेड्डी, विकाराबाद, संगारेड्डी, महबूबनगर, नागरकर्नूल, नारायणपेट और जोगुलाम्बा गद्वाल जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है। तेलंगाना के सभी जिलों में 29-30 सितंबर को अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है जबकि एक अक्टूबर को राज्य के कुछ जिलों में अलग-अलग स्थानों पर गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है। तेलंगाना में आज और कल कई स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है, जबकि शनिवार को राज्य के कुछ स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश होने या गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है। तेलंगाना में रविवार और सोमवार को अलग-अलग स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है या गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। राज्य में दक्षिण पश्चिम मानसून सक्रिय है।

यह भी पढ़ें:– अमेरिका: जानें, 20 लाख लोगों ने अंधेरे में क्यों बिताई रात…

राज्य में पिछले 24 घंटे में कई स्थानों पर बारिश हुई। हैदराबाद में आमतौर पर बादल छाए रहेंगे। हैदराबाद में आज और कल कई इलाकों में हल्की से मध्यम बारिश हो सकती है या गरज के साथ छींटे पड़ सकते हैं। मौसम विभाग ने कहा कि सतही हवाएं उत्तर-पश्चिम की ओर लगभग 08-12 किमी प्रति घंटा की गति से चल सकती है।

भूना में पटरी पर लौटने लगा जनजीवन

जिला में अत्याधिक बारिश होने से भूना शहर व आसपास के क्षेत्र में बनी जलभराव की स्थिति से निपटने के लिए प्रशासन योजनाबद्ध तरीके से काम कर रहा है। कस्बा क्षेत्र में बारिश के पानी की नियमित रूप से निकासी होने के चलते जनजीवन सामान्य होता जा रहा है। इसके साथ-साथ बाजार भी काफी हद तक खुला चुका है, जिससे कस्बे में रौनक लौटने लगी है। जन स्वास्थ्य, सिंचाई विभाग, पंचायत विभाग तथा स्थानीय शहरी निकाय विभाग सहित अन्य संबंधित विभागों द्वारा पानी निकासी के लिए पुख्ता प्रबंध किए गए हैं। पानी की निकासी के लिए भूना क्षेत्र में 17 पम्प सैट स्थापित किए गए हैं।

हरियाणा में इस साल 2022 में दक्षिण पश्चिम मानसून 30 जून के प्रवेश से लेकर आज के दिन तक 465.6 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई है। मौसम विभाग की मानें तो हरियाणा राज्य में अगले चार पांच दिनों में पश्चिमी हवांए चलने तथा वातावरण में नमी आने की संभावना बन रही है। इस दौरान राज्य में 5 दिन के तापमान में हल्की बढ़ोत्तरी तथा रात्रि में तापमान में हल्की गिरावट होने की संभावना है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।