अब पढ़ाई संग आत्मनिर्भर भी बनेंगे प्रदेश के होनहार

0
232
12th Exam Cancel

9वीं से 12वीं तक कराया जाएगा नया कोर्स

कुरुक्षेत्र (सच कहूँ/देवी लाल बारना)। राजकीय माडल संस्कृति वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालयों में 9वीं से 12वीं कक्षा में पढ़ने वाले विद्यार्थियों को पढ़ाई के साथ आत्मनिर्भर भी बनाया जाएगा। इसके लिए विद्यालय शिक्षा निदेशालय की ओर से रिटेल कोर्स कराने तैयारी की जा रही है। इन स्कूलों में बनाई जाने वाली लैब में वोकेशनल टीचर्स के सहयोग से ट्रेनिंग दी जाएगी। जिला कुरुक्षेत्र में पांच माडल संस्कृति विद्यालय बनाए गए है। जिनमें विद्यार्थी पढ़ाई के साथ विद्यार्थी आत्मनिर्भर बनेंगे।
समग्र शिक्षा से एपीसी सतबीर कौशिक ने बताया कि स्कूलों में नेशनल स्किल क्वालीफिकेशन फ्रेमवर्क (एनएसक्यूएफ) स्कीम के तहत विभाग ने इंक्यूबेशन सेंटर खोलने का फैसला लिया है। प्रदेश के सभी जिलों में रिटेल सेंटर बनाए जाने की योजना बनाई है। यहां विद्यार्थियों को कोर्स करवा कर आत्मनिर्भर बनाया जाएगा। उन्होंने बताया कि यह कोर्स जाब ओरिएंटेड होने के साथ स्कोरिंग सब्जेक्ट्स भी हैं।
विभाग की ओर से 22 जिलों में सेंटर बनाए जा रहे हैं, ताकि विद्यार्थी स्कीम के तहत सभी कोर्स को लैब के जरिए कर सकें। लैब में इन्हें कोर्स के बारे में विस्तार से बताने के लिए वोकेशनल टीचर्स को जिम्मेदारी दी जाएगी। इसके साथ ही विद्यार्थी प्रैक्टिकल लैब के जरिये विजिट के लिए दूसरों जिलों में जा सकेंगे। विद्यार्थी अपने स्कूलों तक ही सीमित थे। नई व्यवस्था में इसमें बदलाव किया गया है। विद्यार्थी दूसरे जिलों में जाकर जागरूकता का पाठ पढ़ने के साथ पढ़ा भी वोकेशनल टीचर्स सेंटर में देंगे सेवाएं ।प्रशिक्षण के लिए विभाग की ओर से सेंटरों में वोकेशनल टीचर्स की सेवाएं ली जाएगी। जो कोर्स जुड़ी जानकारी विस्तार से देने का काम करेंगे। अपने फील्ड में माहिर बनाकर स्वरोजगार परक बनाएंगे। इसके साथ ही सेंटर पर जो अभी उत्पादन किया जाएगा, उसे बेच कर आई राशि से कमी को पूरा किया जाएगा। इससे मार्केट के बारे में भी जानकारी मिलेगी।

हरियाणा स्कूल परियोजना की पहल

समग्र शिक्षा के डीपीसी (डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट कोआॅर्डिनेटर) विनोद कौशिक ने बताया कि विद्यार्थियों को स्वरोजगार और आत्मनिर्भर बनाने के लिए हरियाणा स्कूल शिक्षा परियोजना परिषद की ओर से पहल की गई है। स्कूलों में विद्यार्थी रूचि अनुसार ब्यूटी एंड वेलनेस, एग्रीकल्चर, पेशेंट केयर असिस्टेंट के कोर्स कर सकेंगे। साथ ही उनकी मार्क शीट में कोर्स का नाम दिया जाएगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।