अब पेड़ों को मिलेगा ‘संरक्षण’

0
268
Tree Plantation Dera Sacha Sauda

पेड़ बचाने के लिए शुरू हुई प्राणवायु देवता पेंशन योजना

(Trees Protection)

  • पेड़ों के रख-रखाव के लिए प्रतिवर्ष दिए जाएंगे 2500 रुपये

सच कहूँ/विनोद शर्मा
फतेहाबाद। राज्य सरकार ने पर्यावरण के संरक्षण के लिए एवं पेड़-पौधों को सुरक्षित तथा बचाने के लिए प्राणवायु देवता पेंशन योजना लागू की। इस योजना से आगामी समय में सकारात्मक परिणाम देखने को मिलेंगे। पेड़-पौधों का जीवन में बड़ा महत्व है। वातावरण को शुद्ध रखने के लिए हर व्यक्ति को एक पेड़ जरूर लगाना चाहिए, वृक्षारोपण करना पुण्य का कार्य हैं। वन विभाग द्वारा पौधे मुफ्त दिए जा रहे हैं। पेड़ बचाने के लिए मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने प्राणवायु देवता पेंशन योजना लागू की है। इस योजना के तहत 75 वर्ष की आयु के पेड़ों के रख-रखाव के लिए 2500 रुपये प्रतिवर्ष दिए जाएंगे। वन विभाग द्वारा इसका सर्वे करवाया जा रहा है।

6 माह में 50 रुपए 3 साल तक दिए जाएंगे 

वातावरण को स्वच्छ बनाए रखने के लिए पेड़-पौधों का विशेष महत्व है। हर व्यक्ति को अधिक से अधिक पेड़ लगाने चाहिए। मुख्यमंत्री ने पेड़ों की रक्षा और सुरक्षा के लिए विद्यार्थियों को भी जोडऩे का काम किया है, जो विद्यार्थी एक पेड़ लगाएगा और इसकी सुरक्षा करेगा, उसे सरकार द्वारा 6 माह में 50 रुपए 3 साल तक दिए जाएंगे, मुख्यमंत्री की इस योजना से 3 साल में एक पेड़ खड़ा हो जाता है।

किसान की आय भी बढ़ेगी

छायादार व फलदार पेड़-पौधे लगाए, इससे किसान की आय भी बढ़ेगी और पर्यावरण भी शुद्ध होगा। उन्होंने कहा कि पेड़-पौधे हमें शुद्ध वायु, फल, फूल, औषधी देते हैं, परन्तु लेते कुछ नहीं। लोगों को प्रण लेना चाहिए कि वह पेड़ लगाकर उसकी सुरक्षा करें। नागरिकों से यह भी आग्रह किया है कि जल संचय व पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देने के लिए आगे आना चाहिए। उन्होंने कहा की केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जल शक्ति अभियान भी चलाया जा रहा है यह आगामी नवंबर माह तक चलेगा। इस अभियान में भी नागरिक बढ़-चढ़ कर भाग लें।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।