आमजन के स्वास्थ्य को लेकर आम आदमी पार्टी सरकार की बड़ी पहल

Bhagwant Mann sachkahoon

पंजाब में ‘सरकारी खर्च’ पर ऑपरेशन करेंगे प्राईवेट सुपर स्पैशलिस्ट डॉक्टर

  • सरकारी अस्पतालों में मिलेगी सुविधा, प्रति केस सरकार करेगी ‘भुगतान’
  • बड़े डॉक्टरों को गरीबों के इलाज के लिए राजी करेगी सरकार

चंडीगढ़। (सच कहूँ/अश्वनी चावला) एमरजेंसी में गंभीर बीमारी से जूझ रहे गरीब मरीजों की जिंदगी को बचाने के लिए अब प्राईवेट अस्पतालों के सुपर स्पैशलिस्ट डॉक्टर अपनी सेवाएं सरकारी अस्पतालों में देते नजर आएंगे। हार्ट अटैक से लेकर गंभीर से गंभीर स्थिति में मरीज की जान बचाने के लिए बड़े-बड़े डॉक्टर ऑपरेशन तक सरकारी अस्पताल में ही करते नजर आएंगे। इससे गरीब मरीज को प्राईवेट अस्पताल में रैफर करने की नौबत नहीं आएगी व सरकारी खर्च पर ही मरीज का मुफ्त इलाज होगा। जो सुपर स्पैशलिस्ट डॉक्टर सरकारी नौकरी नहीं करना चाहते या फिर प्राईवेट अस्पतालों में मोटे वेतन पर काम कर रहे हैं, उनसे बड़े डॉक्टरों से प्रति केस भुगतान करते हुए सरकार अब के बाद सरकारी अस्पतालों में सेवा लेने का मन पंजाब सरकार बना रही है।

यह भी पढ़ें:– खबर आपके काम की: पानीपत घटना से सबक लेने की आवश्यकता…

पंजाब में सीएम भगवंत मान की सरकार द्वारा इस तरह की योजना बनानी शुरू कर दी गई है, जिसमें प्राईवेट डॉक्टरों को सरकार अच्छे पैसों का भुगतान करेगी ताकि वह सरकारी अस्पताल में जाकर मरीज की जिंदगी बचाएं व पैसों को लेकर इन्कार न करें। जानकारी के अनुसार पंजाब के ज्यादातर सरकारी अस्पतालों में स्पैशलिस्ट व सुपर स्पैशलिस्ट डॉक्टरों की भारी कमी है। यह बड़े-बड़े डॉक्टर सरकारी नौकरी में आना नहीं चाहते हैं, जिस कारण वह मोटे वेतन के लिए प्राईवेट अस्पतालों को पहल देने लगे हैं या फिर खुद का अस्पताल खोल रहे हैं। इन बड़े डॉक्टरों की कमी के चलते पंजाब के गरीब मरीजों को भी प्राईवेट अस्पतालों में महंगे रेटों पर चैकअप से लेकर ईलाज तक करवाना पड़ रहा है, जिस कारण काफी मोटे पैसों की अदायगी भी इन गरीब मरीजों को करनी पड़ रही है।

सरकारी अस्पतालों में डॉक्टरों की कमी के चलते आने वाले एमरजेंसी केस वाले मरीजों को इलाज के लिए प्राईवेट अस्पताल में रैफर किया जा रहा है व कई बार प्राईवेट अस्पताल दूर होने के चलते मरीज की मौत तक हो जाती है। इसी कारण अब प्राईवेट डॉक्टरों को ही सरकारी अस्पतालों में लेकर आने की तैयारी पंजाब सरकार ने शुरू कर दी है।

चंडीगढ़ से लेकर बॉर्डर तक के स्पैशलिस्ट डॉक्टरों की ली जाएंगी सेवाएं

पंजाब सरकार द्वारा चंडीगढ़ से लेकर बॉर्डर तक स्थित प्राईवेट अस्पतालों में काम करने वाले हर तरह के स्पैशलिस्ट डॉक्टर से संपर्क करते हुए अपने पैनल में शामल किया जाएगा। पूरे पंजाब भर के प्राईवेट व बड़े डॉक्टरों को पैनल में शामिल करने के बाद एक लिस्ट सरकारी अस्पतालों को सौंपी जाएगी ताकि जरूरत पड़ने पर एमरजैंसी केस या फिर ऑपरेशन के लिए स्पैशलिस्ट डॉक्टर को बुलाकर मरीज का इलाज करवाया जा सके। हर एमरजैंसी केस व ऑपरेशन की फीस सरकार द्वारा ही सीधे तौर पर प्राईवेट डॉक्टर को दी जाएगी।

पैसे नहीं हमें पंजाबियों की जिदंगी की चिंता : डॉ. बलबीर सिंह

स्वास्थ्य मंत्री पंजाब डॉ. बलबीर सिंह ने बताया कि मुख्यमंत्री भगवंत मान द्वारा पंजाबियोंं के इलाज के लिए पैसे की चिंता नहीं करने के लिए कहा गया है। इसलिए सरकार को पंजाबियों की जिंदगी की ज्यादा चिंता है, जबकि पैसों का जुगाड़ तो कर लिया जाएगा। उन्होंने बताया कि प्राईवेट सुपर स्पैशलिस्ट डॉक्टरों को उनकी बनती अदायगी करते हुए सरकारी अस्पतालों में इलाज करवाया जाएगा ताकि गरीब मरीज को अच्छा इलाज मिलते हुए उसकी जान बच सके।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here