दसवीं-बारहवीं की पूरक परीक्षा आज से, पांच परीक्षा केन्द्र बनाये

Forester Recruitment

परीक्षा के दौरान उड़नदस्ते करेंगे परीक्षार्थी व पर्यवेक्षक की जांच

  • मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण मिलने पर नहीं होगी एंट्री

सरसा (सच कहूँ न्यूज)। शिक्षा विभाग ने हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की दसवीं व बारहवीं कक्षा की पूरक परीक्षा वीरवार से शुरू होगी। बोर्ड की परीक्षा को लेकर सरसा जिले में पांच परीक्षा केंद्र बनाए गये हैं। बोर्ड की दसवीं व बारहवीं कक्षा की आर्य गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल, राजकीय गर्ल्स सीनियर सेकेंडरी स्कूल मेला गाउंड, आरएसडी सीनियर सेकेंडरी स्कूल, महावीर दल सीनियर सेकेंडरी स्कूल व राजकीय सीनियर सेकेंडरी स्कूल खैरपुर में परीक्षा केंद्र बनाया गया है। बोर्ड शैक्षिक व मुक्त विद्यालय की परीक्षा 17 अक्टूबर तक आयोजित होगी।

परीक्षा से पहले होगी गहनता से जांच

बोर्ड की परीक्षा सायं के सत्र में दोपहर दो बजे से साढ़े चार बजे तक होगी। परीक्षा समय से विद्यार्थियों को आधा घंटे पहले पहुंचना जरूरी होगी। क्योंकि परीक्षा से पूर्व परीक्षार्थियों की गहनता से जांच होगी। यदि किसी परीक्षार्थी के पास कोई अनुचित सामग्री मिलती है। ऐसे में परीक्षा केंद्र के अंदर प्रवेश नहीं करने दिया जाएगा। परीक्षा के दौरान उड़नदस्ते ये भी सुनिश्चित करेंगे कि किसी भी परीक्षार्थी व पर्यवेक्षक के पास मोबाइल व अन्य इलेक्ट्रानिक उपकरण न हो। परीक्षा शुरू होने से पहले सभी पयवेक्षकों को अपने मोबाइल प्रमुख केंद्र अधीक्षक के पास जमा करवाना होगा। इसी के साथ केंद्र में ड्यूटी पर नियुक्त स्टाफ सदस्यों को पहचान पत्र लगाना जरूरी होगा।

यह भी पढ़ें – नियम 134-ए : अब निजी स्कूलों को समय पर होगी फीस की प्रतिपूर्ति

बोर्ड की परीक्षा को लेकर धारा 144 लागू

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की परीक्षा को लेकर आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा-144 के तहत आदेश जारी कर दी है। बोर्ड की आयोजित होने वाली विभिन्न परीक्षाओं के मद्देनजर परीक्षा केंद्रों की 200 मीटर की परिधि में पांच या इससे अधिक लोगों के एकत्रित होने तथा फोटोस्टेट की दुकानें खोलने पर प्रतिबंध लगाया है। ड्यूटी पर तैनात अधिकारियों व कर्मचारियों पर यह आदेश लागू नहीं होंगे। आदेशों की अवहेलना पर भारतीय दंड संहिता की धारा 188 के तहत आवश्यक कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

‘‘जिले में बोर्ड की दसवीं व बारहवीं कक्षा की पूरक परीक्षा को लेकर पांच परीक्षा केंद्र बनाए गये हैं। परीक्षा को लेकर बोर्ड चेयरमैन, बोर्ड सचिव, एसडीएम, जिला शिक्षा अधिकारी व जिला प्रश्न पत्र के विशेष उड़नदस्ते गठित कर दिए हैं। जो समय समय पर परीक्षा केंद्रों का औचक निरीक्षण करेंगे। परीक्षा केंद्र में जो भी नकल करते हुए मिला। उस पर यूएमसी का केस बनाया जाएगा।
– संतकुमार बिश्नोई, जिला शिक्षा अधिकारी, सरसा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।