प्रकाश रानी इन्सां की मृत देह मेडिकल रिसर्च के लिए दान

बठिंडा । (सच कहूँ/सुखनाम) पूज्य गुरू संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां की पावन प्रेरणाओं पर चलते हुए ब्लॉक बठिंडा की एक श्रद्धालु के मरणोंपरांत उस द्वारा किए गए प्रण को पूरा करते हुए उसके पारिवारिक सदस्यों ने मृत देह को मैडीकल रिसर्च के लिए दान कर दिया। प्राप्त विवरणों अनुसार माता प्रकाश रानी इन्सां (80) पत्नी मुलख राज निवासी माल गोदाम रोड, बठिंडा के मरणोंपरांत उसकी पुत्रवधू कांता देवी इन्सां, पौत्र भारत भूशन इन्सां, पौत्रवधू हैपी गोयल इन्सां और अन्य परिवारिक सदस्यों ने अंतिम संस्कार करने की बजाए मृत देह को मैडीकल रिसर्च के लिए मुरारी लाल रसीवासिया आर्युवैदिक कॉलेज, कॉलेज रोड, आरके गुप्ता मार्ग चरखी दादरी (हरियाणा) को दान किया।

माता प्रकाश रानी इन्सां अमर रहे के नारों के साथ मृत देह को रिश्तेदारों, स्नेहियों और बड़ी संख्या में ब्लॉक की साध-संगत के अलावा क्षेत्रवासियों ने मृतक के निवास स्थान से काफिले के रूप में अंतिम विदाई दी। इस मौके 45 मैंबर पंजाब गुरमेल सिंह इन्सां ने बताया कि माता प्रकाश रानी इन्सां ने मरणोंपरोंत शरीरदान करने का प्रण लिया हुआ था, जिसे उनके पारिवारिक सदस्यों ने पूरा किया है। इस मौके ब्लॉक भंगीदास सुनील इन्सां, एरिया भंगीदास नरिन्दर इन्सां और भंगीदास सपना इन्सां बताया कि माता प्रकाश रानी इन्सां का पूरा परिवार डेरा सच्चा सौदा के साथ जुड़ा हुआ है और वह हमेशा ही मानवता भलाई के कार्यों में अग्रणी रहते हैं।

जिम्मेवारों ने कहा माता जी ने जीते जी मानवता की सेवा की और जाते-जाते अपना शरीर भी मैडीकल रिसर्च के लिए दान कर मानवता पर एक बड़ा परोपकार कर गए हैं। इस मौके 45 मैंबर पंजाब रणजीत इन्सां, बिमला इन्सां, जिला सुजान बहनें, जिला 25 मैंबर, ब्लॉक 15 मैंबर, सुजान बहनें, शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैलफेयर फोर्स विंग के सेवादार, विभिन्न समितियों के जिम्मेवार, सेवादार, रिश्तेदार, स्नेही और क्षेत्रीयवासियों के अलावा बड़ी संख्या में साध-संगत उपस्थित थी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here