झूमते नाचते आए इश्क के मसीहा को सजदा करने

सरसा। बुधवार 25 जनवरी का दिन…डेरा सच्चा सौदा में चहुंओर खुशियों का आलम, यहां आने वाला हर कोई अपनी मस्ती में चूर था। और हो भी क्यों न क्योंकि करोड़ों की संख्या में उपस्थित साध संगत के चेहरे से बरस रहा रूहानी नूर था। मौका था परम पिता शाह सतनाम जी महाराज के पवित्र जन्म दिवस पर आयोजित भंडारे का। देश विदेश से आई साध संगत झूमते नाचते हुए इश्क के मसीहा को सजदा करने के लिए पहुंंची। ढ़ोल नगाड़ों की थाप पर साध संगत इस तरह थिरकते हुए आगे बढ़ रही थी जैसे उन्हें सर्दी होने का कोई आभास ही ना हो।

अपने मुर्शिद के इश्क के नशे में चूर साध संगत के उत्साह को देखकर रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड व शहर की सड़कों पर उपस्थित लोग भी सांध संगत को जिज्ञासु मन से टकटकी लगाकर निहार रहे थे। वहीं अपने वाहनों से पहुंचे सेवादारों ने अपने वाहनों की भी गजब की सजावट की हुई थी। शाह सतनाम जी धाम का नजारा तो हर किसी के मन को अपनी ओर आकर्षित कर रहा था। पूज्य गुरूजी स्टेज पर विराजमान होते ही सांस्कृतिक कार्यक्रम हुए।

इश्क वाला रोग शाह सतनाम जी भी वेख्या,
अपनी कुल्ली नू हथीं आग्ग लाकै सेक्या,
कर तां हवाले वैद्य शाह मस्तान दे
इश्क देयां रोगियां दा, दारु नहीं जहान ते।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here