Honesty: सोने के आभूषण लौटा पेश की ईमानदारी की मिशाल

0
257
Honesty

सच कहूँ/राजेन्द्र गाबा
रानियां। आज के इस स्वार्थी युग में भी ईमानदारी जिंदा है। हजारों रुपए का सोना भी अमर सिंह इन्सां का ईमान नहीं डोला सका। गांव धनूर के अमर सिंह इन्सां पुत्र सोहन सिंह इन्सां ने बताया कि उसे अपने घर के बाहर गली में सोने का एक गहना गिरा हुआ मिला। जो उसने उठा लिया। कुछ देर बाद सरसा से आने वाले सुरेन्द्र कुमार ने जब इस बारे में पूछा तो उसने कहा कि उसे एक सोने का गहना मिला है। निशानी बताने के बाद अमीर सिहं इन्सां ने सुरेंद्र कुमार को यह गहना लौटा दिया। अमर सिंह इन्सां ने बताया कि उसे यह प्रेरणा डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां से मिली है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।