दिल्ली में एलजी और सीएम की लड़ाई सदन तक पहुंची

Arvind Kejriwal,

केजरीवाल ने किया प्रदर्शन, विधानसभा की कार्रवाई स्थगित

नई दिल्ली (एजेंसी)। दिल्ली सरकार बनाम उपराज्यपाल मामला बढ़ता जा रहा है। दिल्ली के शिक्षकों को फिनलैंड प्रशिक्षण के लिए भेजने से जुड़े मामले समेत कई मुद्दों पर दिल्ली सरकार और एलजी आमने-सामने हैं। इस बीच दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने उपराज्यपाल का न्योता मंजूर नहीं किया। केजरीवाल ने कहा कि उपराज्यपाल वीके सक्सेना ने मुख्यमंत्री और उपमुख्यमंत्री को मिलने के लिए बुलाया है, लेकिन हम सभी विधायकों के साथ मिलना चाहते हैं। उपराज्यपाल का यह न्योता मंजूर नहीं। इससे पहले दिल्ली विधानसभा में भी सरकार बनाम एलजी का मुद्दा गरमाया। दिल्ली विधानसभा का तीन दिवसीय सत्र सोमवार को हंगामे के बाद स्थगित हो गया।

इसके बाद सीएम केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली में आप पार्टी के विधायकों ने एलजी हाउस तक मार्च किया। दिल्ली सरकार के निर्णय में एलजी के कथित हस्तक्षेप पर आप ने अपना भारी विरोध दर्ज कराया। केजरीवाल सहित सभी विधायक हाथों में तख्तियां लिए नजर आए, जिन पर लिखा था- ‘मिस्टर एलजी, शिक्षकों को फिनलैंड जाने की इजाजत दीजिए।’ अरविंद केजरीवाल के मुताबिक, उपराज्यपाल ने सभी विधायकों और मंत्रियों से मिलने से मना कर दिया है। यह दो करोड़ जनता का अपमान है कि हमारे विधायकों और मंत्रियों से मिलने से मना कर दिया। आगे की रणनीति हम तय करके बताएंगे। इस बीच अरविंद केजरीवाल उपराज्यपाल निवास के पास से वापस लौट आए। अरविंद केजरीवाल के कई प्रस्तावों पर एलजी ने मंजूरी नहीं दी है। ऐसे में प्रतीत हो रहा है कि ये विवाद अभी लंबा चलेगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here