अब कार की सभी सीटों पर लगेगा एयरबैग, गडकरी ने लोकसभा में किया ऐलान

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। सरकार ने कहा है कि देश में लगातार बढ़ रही सड़क घटनाओं को नियंत्रित करने के लिए कारों की आगे की सीटों पर एयर बैग अनिवार्य करने के बाद अब पीछे की सीटों पर भी इसे लगाने पर विचार कर रही है। लोकसभा में सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने एक पूरक प्रश्न के जवाब में कहा कि एयर बैग कारों पर अनिवार्य किया गया है।

Gadkari sachkahoon

पीछे की सीटों पर बैठने वाले लोगों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए यह कदम उठाया जा रहा है। उन्होंने कहा, ‘हमारी कोशिश है कि कार पर जितने लोग बैठे हैं उन सभी के लिए कार में एयर बैग जैसी सुरक्षा उपलब्ध करि जाय सरकार इस दिशा में कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि यह सही है कि विद्युत वाहनों की संख्या लगातार बढ़ रही है और इलेक्ट्रिक वाहनों की संख्या बढ़ाने पर ध्यान दे रही है ताकि डीजल पेट्रोल पर आयात निर्भरता कम हो और लोगों को किफायती दरों पर ईंधन उपलब्ध हो सके।इससे वहां सृजित प्रदूषण को नियंत्रित किया जा सकेगा इसके लिए सरकार जल्दी ही 50 हजार इलेक्ट्रिक बस लाने की योजना बना रही है।

हंगामे के कारण लोकसभा की कार्यवाही स्थगित

लोकसभा में पिछले तीन दिन से सुचारू रूप से जारी सदन की कार्यवाही गुरुवार को फिर बाधित हुई और कांग्रेस के सदस्यों ने सरकार और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जैसी संस्थाओं का दुरुपयोग करने का आरोप लगाते हुए भारी हंगामा किया जिसके कारण सदन की कार्यवाही दो बजे तक स्थगित कर दी गई। लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने 11 बजे जैसे ही सदन की कार्यवाही शुरू की कांग्रेस के सदस्य सरकार पर मनमानी, तानाशाही और सरकारी एजेंसियों का दुरुपयोग का आरोप लगाते हुए हंगामा करने लगे और नारे लगाते हुए सदन के बीचोंबीच आ गए। अध्यक्ष ने हंगामे के बीच प्रश्नकाल चलाने का प्रयास किया और करीब 40 मिनट तक हंगामे के बीच प्रश्नकाल चलता रहा। इस बीच सरकार ने कई सवालों के जवाब सदन में दिए। हंगामा कर रहे सदस्यों से अध्यक्ष ने अपनी सीटों पर जाने का आग्रह करते हुए कहा कि उन्हें प्रश्नकाल के बाद अपनी बात रखने का अवसर दिया जाएगा लेकिन सदस्यों ने हंगामा जारी रखा जिसके कारण सदन की कार्यवाही स्थगित करनी पड़ी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here