शोपियां और पुलवामा में पाँच आतंकवादी ढेर

0
11
Encounter in Pulwama

कंपनियों की मोबाइल, इंटरनेट सेवाएं रोकी

श्रीनगर (एजेंसी)। जम्मू-कश्मीर के शोपियां और पुलवामा में सुरक्षाबलों ने पाँच आतंकियों को मार गिराया। शेपियां में शुक्रवार सुबह सुरक्षा बलों ने फिर से घेराबंदी और तलाशी अभियान (कासो) शुरू किया। इस अभियान में अभी तक तीन आतंकवादी मारे गए और तीन जवान घायल हो गए। आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मुख्य शहर शोपियां में घनी आबादी वाले मोहल्ले में एक स्थानीय मस्जिद में घुसे आतंकवादियों और सुरक्षा बलों के बीच रात से रुक-रुक कर गोलीबारी हो रही है। उन्होंने कहा कि सेना और पुलिस के अधिकारी इलाके में डेरा डाले हुए हैं और आतंकवादियों के खिलाफ अभियान की निगरानी कर रहे हैं। आतंकवादियों आत्मसमर्पण करने से इनकार कर दिया है वह सुरक्षा बलों पर लगातार गोलीबारी कर रहे है।

सूत्रों ने बताया कि आतंकवादियों को आत्मसमर्पण करने के लिए मनाने का प्रयास किया जा रहा है। इस बीच अफवाहों को रोकने के लिए एहतियातन शोपियां में मोबाइल इंटरनेट बंद है। उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय राइफल्स (आरआर), जम्मू कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों ने वीरवार शाम शोपियां के मुख्य शहर जन मोहल्ला में आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना के बाद कासो अभियान शुरू किया था। हालांकि अभियान के दौरान जब सुरक्षा बल एक विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे तो वहां छिपे आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलियां चलानी शुरू कर दी, जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हुई।

इस अभियान के दौरान तीन अज्ञात आतंकवादी मारे गए और तीन सैनिक घायल हुए, जिन्हें 92 बेस अस्पताल श्रीनगर में भर्ती कराया गया है। उन्होंने कहा कि शोपियां शहर की सभी सड़कों को बंद कर दिया गया है और लोगों को घर में रहने को कहा गया है। कस्बे में दुकानें और अन्य व्यापारिक प्रतिष्ठान बंद है और कासो अभियान शुरू होने बाद से यातायात बंद है। किसी भी प्रदर्शन को रोकने के लिए पूरे शहर में सुरक्षा बलों तैनात किया गया है।

वहीं सुरक्षा बलों ने पुलवामा जिले के त्राल इलाके में घेराबंदी और तलाशी अभियान (कासो) चलाया। इस दौरान मुठभेड़ में दो अज्ञात आतंकवादियों को मार गिराया। इस बीच अफवाहों को रोकने के लिए एहतियातन भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) सहित सभी कंपनियों की मोबाइल इंटरनेट को निलंबित कर दिया गया है। पुलिस प्रवक्ता ने शुक्रवार को यहां बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया सूचना के बाद राष्ट्रीय रायफल्स (आरआर), जम्मू-कश्मीर पुलिस के विशेष अभियान समूह (एसओजी) और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के जवानों ने शुक्रवार की सुबह पुलवामा जिले में त्रास के नोवबग में संयुक्त (कासो) अभियान चलाया।

उन्होंने कहा कि नोवबग की ओर जाने वाली सभी सड़कों को बंद कर दिया गया और बाहर निकलने वाले मार्गों को सील कर दिया गया। उन्होंने कहा कि सुबह पहली किरण के साथ जब सुरक्षा बल विशेष क्षेत्र की ओर बढ़ रहे थे। तभी वहां छिपे आतंकवादियों ने स्वचालित हथियारों से गोलियां चला दीं। सुरक्षा बलों की जवाबी कार्रवाई की। इस मुठाभेड़ में अब तक एक अज्ञात आतंकवादी मारा गया है। उन्होंने कहा कि बाद में एक आतंकवादी और मारा गया है। अभियान अभी जारी है। इस बीच कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए आसपास के क्षेत्रों में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात किया गया हैं।

गौरतलब है कि पड़ोसी देश पाकिस्तान की शह पर आतंकवादी संगठन धरती का स्वर्ग कही जाने वाले जम्मू-कश्मीर की फिजाओं में दहशत का जहर घोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। आतंकियों के नापाक मंसूबों को नाकाम करते हुए भारतीय सेना के जवान भी उनको मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।