यमुनानगर की बेटी संजोली को मिला अंतर्राष्ट्रीय डायना पुरस्कार

0
132
International Diana Award sachkahoon

17 साल में किए सामाजिक कार्य को लेकर किया गया सम्मानित

  • मेयर हाउस पहुंचने पर प्रशासन ने पुष्प गुच्छ देकर किया स्वागत

सच कहूँ/लाजपतराय, यमुनानगर। शहर की प्रोफेसर कॉलोनी की मूल रूप से निवासी 22 वर्षीय संजोली बैनर्जी को विश्व के सबसे प्रतिष्ठित अंतर्राष्ट्रीय डायना पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। उन्हें यह पुरस्कार 17 साल में किए सामाजिक कार्य व मानव जीवन को बेहतर बनाने के प्रयास को लेकर दिया गया। रविवार को मेयर हाऊस पहुंचने पर नगर निगम मेयर मदन चौहान ने संजोली बैनर्जी, उसके पिता मिहिर बैनर्जी व अनन्या बैनर्जी को पुष्प गुच्छ देकर सम्मानित किया।

साथ ही पत्रकारों से बातचीत की। पत्रकारों से बातचीत में संजोली बैनर्जी ने बताया कि यह पुरस्कार प्रिंसेज ऑफ वेल्स डायना की स्मृति में दिया जाता है। इस पुरस्कार के लिए उसका चयन डायना अवार्ड जजिंग पैनल्स के 12 सदस्यों द्वारा किया गया, जो कि बहुत कठिन व चुनौती भरा था। यह आवार्ड बर्मिंघम पैलेस में होने वाले अंतरराष्ट्रीय सम्मान समारोह में दिया जाता है। लेकिन कोरोना महामारी की मध्यनजर यह आवार्ड वर्चुअल सेरेमनी द्वारा नवाजा गया।

20 साल की उम्र में ऑस्ट्रेलियन संसद में बनी एक दिन पार्लियामेंट सदस्य

संजोली ने बताया कि 20 साल की उम्र में उसे ऑस्ट्रेलियन फेडरल संसद में एक दिन का पार्लियामेंट सदस्य बनने का अवसर मिला। उसने ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री स्कॉट मोरिशन को चार्टर भी पेश किया। जिसमें महिला सशक्तिकरण की बात कही व जलवायु परिवर्तन की वजह से तापमान के बढ़ते खतरे पर चिंता जताई।

पिता से मिली थी सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा

संजोली को सामाजिक कार्य करने की प्रेरणा अपने पिता से मिली। उसके पिता मिहिर बैनरजी शिक्षक हैं। जो बच्चों को संघ लोक सेवा आयोग व राज्य लोकसेवा आयोग, राज्य न्यायिक सेवा, अखिल भारतीय न्यायिक सेवा की परीक्षा आइलेट्स आदि की पढ़ाई करवाकर उनके जीवन को एक नया रंग देते हैं।

संयुक्त राष्ट्र में करना चाहती है भारत का प्रतिनिधित्व

मेयर चौहान ने बताया कि संजोली की छोटी बहन अनन्या भी एक सामाजिक कार्यकर्ता है। कोरोना काल की पहली और दूसरी लहर के दौरान लोगों की मेंटल हेल्थ व वेल बींग पर अभियान चला रही है और वेबिनार कर रही है। वह संजोली के साथ कंधे से कंधा मिलाकर अपना योगदान सामाजिक कार्यों में दे रही है। संजोली ने बताया कि भविष्य में वह भारत का नेतृत्व संयुक्त राष्ट्र में करना चाहती है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।