कैराना पीएनबी पर भाकियू का हल्ला बोल, धरना-प्रदर्शन

रिकवरी एजेंट पर किसान के साथ 3.37 लाख रुपये की धोखाधड़ी का लगाया आरोप, तत्कालीन शाखा प्रबंधक एवं रिकवरी एजेंट के खिलाफ कार्यवाही की मांग

कैराना। (सच कहूँ न्यूज) भारतीय किसान यूनियन के कार्यकर्ताओं ने रिकवरी एजेंट पर किसान के साथ लाखों रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए स्थानीय पीएनबी शाखा पर धरना-प्रदर्शन किया। उन्होंने एसडीएम को संबोधित ज्ञापन-पत्र नायब तहसीलदार को सौंपकर पूर्व में तैनात रहे शाखा प्रबंधक तथा रिकवरी एजेंट के खिलाफ कार्यवाही की मांग की है।

यह भी पढ़ें:– लकड़ी लादकर लखनऊ जा रहे ट्रक के टायर में आग लगने से जलकर खाक हुआ

बुधवार को भारतीय किसान यूनियन के दर्जनों कार्यकर्ता तहसील अध्यक्ष पुष्कर सैनी के नेतृत्व में कस्बे के मुख्य पानीपत-खटीमा राजमार्ग पर स्थित पंजाब नेशनल बैंक की स्थानीय शाखा पर पहुंचे। जहां पर उन्होंने पूर्व में तैनात रहे रिकवरी एजेंसी के एजेंट पर किसान के साथ 3.37 लाख रुपये की धोखाधड़ी करने का आरोप लगाते हुए धरना शुरू कर दिया। धरने के बाद भाकियू कार्यकर्ताओं ने एसडीएम को संबोधित एक ज्ञापन-पत्र मौके पर पहुंचे नायब तहसीलदार गौरव सांगवान को सौंपा।

ज्ञापन-पत्र में बताया कि क्षेत्र के गांव अकबरपुर सुनहेटी निवासी किसान मेहरबान पुत्र खुर्शीद ने अपनी कृषि भूमि बंधक बनाकर पीएनबी शाखा से ऋण लिया था, जिसे वह समय पर जमा नही कर पाया। वर्ष-2021 में ऋण की आरसी जारी होने पर तत्कालीन शाखा प्रबंधक तथा ऋण वसूली के लिए नियुक्त रिकवरी एजेंसी के एजेंट किसान के घर पहुंचे और ओटीएस के तहत तीन माह के भीतर अपना ऋण जमा करने को कहा। बताया कि रिकवरी एजेंट ने किसान से 4.52 लाख रुपये ले लिये, जबकि उसे केवल 1.15 लाख रुपये की ही रसीद दी।

रिकवरी एजेंट ने किसान को उसके केसीसी खाते में सारा पैसा जमा कर दिए जाने की बात कही। आगे बताया कि लोक अदालत के माध्यम से ऋण बकाया का नोटिस पहुंचने पर किसान को पूरे मामले की जानकारी हुई। ज्ञापन में रिकवरी एजेंट व तत्कालीन शाखा प्रबंधक के खिलाफ कार्यवाही करने तथा किसान की समस्या का निस्तारण किये जाने की मांग की गई। इस दौरान गय्यूर हसन, राजेश प्रधान, गौरव, नवाब, मुनव्वर, अमजद, सुहैब, तालिब, नौशाद, हारुन, मेहरबान, अकबर, इनायत आदि मौजूद रहे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here