किरण चौधरी के गढ़ में भाजपा का शक्ति प्रदर्शन

जाट नेताओं को नहीं उभरने दे रहे हुड्डा पिता-पुत्र : विप्लव देव

  • पंचायती राज प्रतिनिधि सम्मान समारोह में उमड़ा भारी जनसमूह
  • जिला परिषद चेयरपर्सन अनिता मलिक को बढ़ा कद

भिवानी (सच कहूँ/इन्द्रवेश)। हरियाणा भाजपा ने वरिष्ठ कांग्रेस नेत्री किरण चौधरी को घेरने के लिए उनके विधानसभा क्षेत्र तोशाम की अनाज मंडी में पंचायती राज प्रतिनिधि सम्मान समारोह रैली का आयोजन किया। इस दौरान भाजपा ने बड़ी संख्या में भीड़ जुटाकर किरण चौधरी के विकल्प के तौर पर जिला परिषद चेयरपर्सन अनिता मलिक का नाम अप्रत्यक्ष तौर पर आगे कर दिया। भाजपा प्रदेश प्रभारी विप्लव देव ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि भूपेन्द्र सिंह हुड्डा और उनके बेटे जाट समाज के किसी भी व्यक्ति को आगे नहीं बढ़ने देना चाह रहे। रैली में मंच के माध्यम से विभिन्न वक्ताओं ने तोशाम में कमल खिलाने की बात भी कही।

यह भी पढ़ें:– रोहतक के पास पटरी से उतरी मालगाड़ी, रेल आवागमन प्रभावित

विप्लव देव ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में वर्ष 2014 से देश जम्मू-कश्मीर से केरला तक समान रूप से विकास के मामले में आगे बढ़ा है। केन्द्र सरकार ने आयुष्मान भारत योजना को देशभर में लागू करके दुनिया की सबसे बड़ी हैल्थ स्कीम लागू करने का काम किया है तथा इसी योजना को हरियाणा राज्य सरकार की मनोहर सरकार ने आगे बढ़ाते हुए एक लाख 80 हजार रुपए से कम आय वाले लोगों को चिरायु योजना के तहत 5 लाख रुपए तक की हैल्थ सुविधाएं देने का कार्य किया है तथा चिरायु योजना के तहत हरियाणा प्रदेश में 11 हजार लोगों ने 30 हजार रुपए से लेकर 3 लाख रुपए तक का स्वास्थय सेवाओं का लाभ प्राप्त किया है।

पंचायतों को मिली और शक्ति

इस मौके पर भाजपा की केन्द्रीय संसदीय समिति की सदस्या सुधा यादव, भाजपा प्रदेशाध्यक्ष ओमप्रकाश धनखड़ व कृषि मंत्री जे.पी. दलाल ने कहा कि हरियाणा प्रदेश में पंचायती राज की शक्तियों को बढ़ाने का काम किया है। जहां पहले जिला परिषद का बजट 50 लाख रुपए होता था, उसे 25 करोड़ रुपए तक करने का कार्य किया है। इसके साथ ही राज्य सरकार ने जिला परिषद, ब्लॉक समिति व पंचायतों में सरकार के हस्तक्षेप को कम करके उन्हे अपने स्तर पर फैसले लेने का अधिकार दिया है, जिसका भविष्य में सुखद परिणाम आएगा। इसके साथ ही जिला परिषद को अधिकारियों को एसीआर लिखने का अधिकार भी दिया है। उन्होंने कहा कि हरियाणा प्रदेश की स्वच्छता की गेडिंग पंचायतों के बेहतर कार्य करने के चलते देश भर में बढ़ी है।

जिला परिषदों में 22 में से 18 चेयरमैन भाजपा-जजपा के

हरियाणा के पंचायतों को मजबूत करने के लिए राज्य सरकार ने स्टार पंचायत का अभियान भी चलाया है। इसी का परिणाम है कि हरियाणा प्रदेश की 22 जिला परिषदों में अब तक 19 जिला परिषदों के चेयरमैन चुन लिए गए हैं, जिनमें से 15 जिला परिषद चेयरमैन भाजपा के चुने गए हैं तथा 3 जिला परिषद चेयरमैन भाजपा के उनके सहयोगी गठबंधन जजपा के चुने गए हैं तथा एक सीट पर इनेलो का प्रतिनिधि चुना गया है। ऐसे में कांग्रेस का कोई भी जनप्रतिनिधि नहीं चुना गया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here