डाग शॉ में पहली बार पहुंचे विदेशी व दुर्लभ नस्लों के डॉग

पटियाला हैरीटेज फैस्टीवल के तहत करवाई 58वीं व 59वीं ऑल ब्रीड चैंपियनशिप

  • मीडिया डॉयरैक्टर बलतेज पन्नू, विधायक अजीतपाल सिंह कोहली, आईजी छीना व डीसी भी दर्शक बनकर पहुंचे

पटियाला। (सच कहूँ न्यूज) पटियाला केनल क्लब ने पटियाला हैरीटेज फैस्टीवल के तहत 58वीं व 59वीं ऑल ब्रीड चैंपियनशिप पोलो ग्राऊंड में करवाई। इस मौके सीएम कार्यालय के मीडिया डायरैक्टर बलतेज पन्नू, विधायक अजीतपाल सिंह कोहली, आईजी मुखविन्दर सिंह छीना व डिप्टी कमिशनर साक्षी साहनी भी दर्शक के तौर पर पहुंचे। इस डॉग शो में काले रंग के तीन ग्रेट डेन नस्ल के डॉग यहां लम्बे समय बाद पहुंचे, जबकि इंग्लिश प्वाइंटर, किंग कैवलियर्ज, चार्लस स्पैनीएल, जैक रसल टैरियर, बॉरनीज माउंटेन डॉग, माल्टीज नस्लोंं ने पहली बार पटियाला शो में हिस्सा लिया।

यह भी पढ़ें:– हिमाचल के चंबा में जोशीमठ जैसे हालात

इसके अलावा डोज डीब्रोडो, केन कोरसो, शेह जू, समोएड व सायबेरियन हसकी शो के मुख्य आकर्षण का केन्द्र रहा। इस मौके मीडिया डायरैक्टर बलतेज पन्नू ने कहा कि पटियाला केनल क्लब शाही शहर पटियाला की पुरानी परंपरा को जिंदा रखने के लिए कुत्तों के साथ प्यार करने के लिए प्रयासरत हैं व यह केनल क्लब पिछले 30 सालों से यह शो करवा रहा है।
पन्नू ने कहा कि पटियाला के डॉग शो की चर्चा भारत स्तर ही नहीं बल्कि विदेशों में भी है। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पटियाला शहर किसी एक व्यक्ति विशेष का नहीं है बल्कि यहां के लोगों का सांझा शहर है।

विधायक कोहली ने कहा कि पंजाब सरकार अपने पंजाब की संस्कृति व विरसे को संभालने के लिए तरह से प्रयासरत है। जिला प्रशासन के इस प्रयास की प्रशंसा करते उन्होंने कहा कि ऐसे मेले पटियाला में लगातार होते रहेंगे। वहीं डीसी साहनी ने डॉग शो का जायजा लेते कहा कि पटियाला शाही शहर है व यहां ऐसे शाही मेले लगातार करवाए जाते रहे हैं व उसी विरासत को आगे बढ़ाते जिला प्रशासन ने पटियाला हैरीटेज फैस्टीवल के कार्यक्रम तय किए हैैं। उन्होंने कहा कि पिछले काफी अरसे से यह डॉ्रग शॉ यहां करवाया जा रहा था लेकिन पिछले दो साल यह नहीं हो सका और इस बार इसे पट्याला हैरीटेज फैस्टीवल के साथ जोड़कर करवाया जा रहा है। केनल क्लब के सचिव जनरल जी.पी. सिंह बराड़ ने बताया कि इस शो ने पट्यालवियों को कुत्तों की विदेशी नस्लों को देखने का मौका प्रदान किया है।

शो में 40 नस्लों के 230 कुत्तों ने लिया भाग

इस शो में 40 नस्लों के कुल 230 कुत्तों ने भाग लिया, जिनमें जर्मन शैफर्ड डॉग-26, लैबराडोर-20, रोटवीलर-11, गोल्डन रिटरीवर-20, बीगल-12 संख्या में डॉग पहुंचे जबकि जंमू, यूपी, दिल्ली, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, महाराष्टÑ, मध्य प्रदेश, तामिलनाडू, पश्चिमी बंगाल, राजस्थान, झारखंड व देश के अन्य हिस्सों से भी दर्शकों ने शो में हिस्सा लिया। दर्शक कुछ विदेशी व दुर्भल नस्लों को देख कर हैरान रह गए। बच्चों ने कुत्तों की दुनिया की सबसे छोटी व सबसे बड़ी नस्लों को देखा। शो में हर वर्ग के लोगों ने बड़ी संख्या में शिरकत की।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here