संजय भाटिया लूटपाट-हत्याकांड : गोली मारकर कैश लूटने वाले की हुई पहचान, धरपकड़ के प्रयास जारी

0
311
Sanjay-Bhatia

श्रीगंगानगर (सच कहूँ न्यूज)। पेट्रोल पंप मालिक संजय भाटिया(50) को गोली मारकर कैश लूट ले जाने वाले मुख्य आरोपी की पहचान हो गई है। वह अनेक अपराधिक वारदातों में लिप्त रहा है। मुख्य आरोपी बेहद शातिर अपराधी है।उसके सहित इस वारदात में शामिल एक और युवक की भी पुलिस ने पहचान कर ली है। दोनों की धरपकड़ के प्रयास चल रहे हैं। इस वारदात में अभी तक कोतवाली पुलिस ने 4 युवकों को गिरफ्तार किया है। इन से कड़ी पूछताछ कर फरार दो मुख्य आरोपियों के बारे में जानकारियां जुटाने में पुलिस लगी हुई है।

पुलिस के मुताबिक विगत गुरुवार की रात्रि लगभग 9º15 बजे मुखर्जीनगर में घर के सामने संजय भाटिया को गोली मारकर कैश लूटने के समय हिम्मतसिंह मोटरसाइकिल चला रहा था। कल गिरफ्तार किए गए हिम्मतसिंह और इसी वारदात के लिए अपना मोटरसाइकिल देने वाले भविष्य अरोड़ा को आज पुलिस ने अदालत में पेश किया। दोनों का 7 अगस्त तक का रिमांड प्राप्त हुआ है। इससे पूर्व संजय भाटिया की रेकी करने के आरोप में गिरफ्तार किए गए पुरानी आबादी निवासी मोहित उर्फ गोरिया तथा मोनू सैन भी भी रिमांड पर चल रहे हैं। पुलिस सूत्रों ने बताया कि इस वारदात का मुख्य आरोपी पुरानी आबादी का ही एक शातिर अपराधी मोहित है, जो पूर्व में हत्या के प्रयास सहित अनेक अपराधिक वारदातों में लिप्त रहा है।

घटना के समय उसी के द्वारा संजय भाटिया पर गोली दागने और रुपयों का बैग छीनने की बात सामने आ रही है। एक अन्य वांछित युवक की पहचान पुरानी आबादी निवासी नकुल के रूप में हुई है। पुलिस सूत्रों ने बताया कि विगत गुरुवार की रात लगभग 9 बजे संजय भाटिया पुलिस अधीक्षक कार्यालय के समीप अपने पेट्रोल पंप से दिनभर का कैश और दिव्यांग पुत्र के साथ कार में जब रवाना हुए,तब मोटरसाइकिल पर हिम्मतसिंह, मोहित तथा नकुल पीछा कर रहे थे। 15 मिनट बाद जब श्री भाटिया अपने निवास पर पहुंचे तो वारदात करने से ठीक पहले नकुल अलग हो गया था। हिम्मतसिंह मोटरसाइकिल चला रहा था।

मोहित ने बैग छीनने की कोशिश की। विरोध करने पर संजय पर गोली चला दी।दोनों कैश लूट कर फरार हुए तो नकुल को रास्ते में अपने साथ ले लिया। पुलिस सूत्रों ने बताया कि कल गिरफ्तार किया गया हिम्मतसिंह की हत्या के प्रयास की एक घटना सहित कई वारदातों में लिप्त रहा है। उसे कुछ दिन पहले सदर थाना पुलिस ने हत्या के प्रयास के मामले में गिरफ्तार किया था। जिसमें वह जमानत पर था। इस घटना का मास्टरमाइंड मोहित बताया जा रहा है, जो अभी तक पकड़ से बाहर है। मोहित और नकुल के पास लूटा गया कैश होने की संभावना है। इन दोनों के कहीं दूर भाग जाने की संभावना भी पुलिस द्वारा व्यक्त की जा रही है, लेकिन एक सूत्र ने बताया कि नकुल जल्द पकड़ में आ जाएगा।उसके लोकेशन कहीं आस-पास ही आ रही है।

मुख्य आरोपी मोहित फिलहाल पुलिस के लिए सिरदर्द बना हुआ है। उल्लेखनीय है कि पेट्रोल पंप मालिक संजय भाटिया की गोली मारकर हत्या कर कैश रूप ले जाने की इस घटना से शहरवासियों में भारी आक्रोश है। गोली लगने से घायल हुए संजय भाटिया की 4 दिन बाद कल सोमवार सुबह मृत्यु हो गई थी। आज संयुक्त व्यापार मंडल के आह्वान पर अरोडवंश मंदिर में एक सभा रखी गई, जिसमें संजय भाटिया को श्रद्धांजलि अर्पित की गई।वही इस प्रकार की लूटपाट की बढ़ती घटनाओं पर चिंता भी जाहिर की गई।

शाम को बड़ी संख्या में लोगों ने शहर के मुख्य मार्गों पर रोष मार्च भी निकाला।उधर, पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इस घटना में लिप्त किसी भी अपराधी को छोड़ा नहीं जाएगा।गिरफ्तार किए गए निकटवर्ती चक 7-जैड निवासी भविष्य अरोड़ा ने न केवल इस वारदात के लिए अपने पिता का मोटरसाइकिल इन बदमाशों को दिया बल्कि वह खुद भी एक बार संजय भाटिया की रैकी करने के लिए इनके साथ गया था। आशुतोष गुप्ता के नेतृत्व में एक शिष्टमंडल बार एसोसिएशन के अध्यक्ष विजय रेवाड़ से आज मिला। एसोसिएशन ने बार से आग्रह किया गया है कि इस वारदात में पकड़े जा रहे अपराधियों की पैरवी नहीं की जाए बल्कि इन को कड़ी सजा दिलाने में मदद की जाए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।