असम में सीएम पद पर फंसा पेंच

0
112

केन्द्रीय नेतृत्व ने सोनवाल और सरमा को बुलाया दिल्ली, किया मंथन

गुवाहटी (एजेंसी)। असम विधानसभा चुनाव में शानदार जीत के बावजूद सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी के सामने सीएम के पद को लेकर पेंच फंसा गया है। हालांकि पार्टी ने राज्य में मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल के नेतृत्व में जीत दर्ज की है, लेकिन हिमंत बिस्व सरमा भी मुख्यमंत्री पद पर दावा जता रहे हैं। पार्टी में गुटबाजी से बचने के लिए भाजपा का केंद्रीय नेतृत्व सक्रिय हो गया है। पार्टी के राष्टÑीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल और हिमंत बिस्व सरमा को शनिवार को दिल्ली बुलाया। दोनों नेता चार्टड विमान से दिल्ली पहुंचे। पहले हिमंत बिस्व सरमा और बीएल संतोष भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा के आवास पहुंचे। उन्होंने यहा केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह की मौजूदगी में बैठक में हिस्सा लिया और इसके बाद वे बैठक से निकल गए।

हालांकि उनकी क्या बात हुई, ये पता नहीं चल पाया। हिमंत बिस्व सरमा के बाद मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल पहुंचे। बैठक में सीएम पद के लिए मथ्था पच्ची जारी थी। गौरतलब है कि भाजपा केंद्रीय नेतृत्व ने अगली सरकार के मुद्दे पर चर्चा के लिए दोनों नेताओं दिल्ली बुलाया है। गौरतलब है कि असम के विधानसभा की 126 में से भाजपा ने 60 सीटों पर जीत दर्ज की है। वहीं उसके गठबंधन सहयोगी असम गण परिषद ने 9 और यूपीपीएल ने 6 सीटें जीती हैं। हालांकि पिछली बार सर्बानंद सोनोवाल चुनाव में पार्टी के सीएम उम्मीदवार का चेहरा थे, लेकिन बार पार्टी ने पहले की कह दिया था कि सीएम कौन होगा, ये चुनाव के बाद तय किया जाएगा।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।