बेहोशी का डॉक्टर न होने से नहीं हो रहे ऑपरेशन

ऑपरेशन करवाने के लिए दो माह से तड़प रहा सराभा नगर का वृद्ध

  • एनथीसिया विशेषज्ञ छुट्टी पर होने के कारण मरीज परेशान

अबोहर। (सच कहूँ/सुधीर अरोड़ा) अबोहर के 100 बिस्तरों वाले सरकारी अस्पताल में एनथीसिया विशेषज्ञ छुट्टी पर होने के कारण अस्पताल में पिछले करीब डेढ़ दो महीने से सर्जरी नहीं हो पा रही। जिस कारण जहां ऑपरेशन करवाने वाले मरीजों का सामना करना पड़ रहा है बल्कि डॉक्टर खुद भी इसको लेकर परेशान है। उधर, सरकारी अस्पताल की नवनियुक्त एसएमओ डॉ. सोनूपाल का कहना है कि एनथीसिया रोग विशेषज्ञ न होने के कारण अस्पताल में सर्जरी नहीं हो पा रही व उनके ध्यान में भी यह मामला लाया गया है व उन्होंने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए सिवल सर्जन से बात की है व एनथीसिया विशेषज्ञ का बदलवा प्रबंध करने का आग्रह किया है ताकि लोगों को परेशानी का सामना न करना पड़े। उन्होंने बताया कि पहले सिजेरियन के लिए प्राइवेट विशेषज्ञ को बुलाकर काम चलाया जा रहा था लेकिन वह विशेषज्ञ भी बाहर गए हुए है जिस कारण अब सिजेरियन भी नहीं हो पा रहा।

यह भी पढ़ें:– सिविल सर्जन ने आम आदमी क्लीनिक का किया दौरा

अस्पताल से मिली जानकारी अनुसाार अस्पताल में एनथीसिया विशेषज्ञ अर्थात किसी भी ऑपरेशन के समय बेहोशी का इंजेक्शन लगाने वाले डॉक्टर के दो पद मंजूर है जिसमें एक पद तो खाली पड़ा है जबकि एक एनथीसिया विशेषज्ञ महिला नियुक्त है लेकिन वह पिछले काफी समय से छ़़ुट्टी पर चल रहे हैं जिस कारण अस्पताल में सर्जरी भाव सभी तरह के आॅपरेशन बंद ही पड़े है। इनमें हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. सनमान माजी व सर्जन डॉ. गगनदीप तथा ज्ञायनोलोजिस्ट के आॅपरेशन शामिल है।

सरकारी अस्पताल में प्रॉइवेट अस्पतालों के पीआरओ रहते है सक्रिय

सरकारी अस्पताल में कई प्राइवेट अस्पतालों ने अपने पीआरओ छोड़ रखे है जो इस ताक में रहते है कि वह यहां आने वाले मरीजों की मजबूरी का फायदा उठाते हुए उन्हें बहला फुसला कर अपने प्राइवेट अस्पताल में ले जाएं जिसके लिए उन्हें कमीशन मिलता है व कई प्रॉइवेट अस्पताल वाले उन्हें तनख्वाह ही इस बात की देते है कि वह मरीजों को बहला फुसला कर यहां लेकर आए। इस तरह प्रॉइवेट अस्पतालों के बंदे या पीआरओ पूरा दिन अस्पताल में ही टहलते रहते है। मौका लगते ही मरीज को अपने जाल में फंसा लेते है लेकिन इस बाबत अस्पताल प्रशासन चाह कर भी कोई भी कारवाई करने में असमर्थ है।

पिछले 2 महीनों से ऑपरेशन के इंतजार में मरीज हरबंस सिंह

सराभा नगर निवासी हरबंस सिंह ने बताया कि उसके कुल्हा का आॅपरेशन होना है जिसके लिए वह करीब दो महीने से इंतजार कर रहा है व दर्द सहन कर रहा है। उन्होंने बताया कि उनका इलाज हड्डी रोग विशेषज्ञ डॉ. सनमान माजी से चल रहा है जिन्होंने आॅपरेशन करवाने की सलाह दी है और वह आॅपरेशन करने को भी तैयार है लेकिन उनका कहना है कि यहां एनथीसिया रोग विशेषज्ञ भाव बेहोशी वाला डॉक्टर न आने के कारण दिक्कत आ रही है। हरबंस सिंह ने कहा कि वह दो महीने से ही चारपाई पर पड़ा है व दो चार दिन बाद डॉ. सनमान से बात कर रहा है। उन्होंने बताया कि अब जब सर्दी का मौसम आ रहा है तो उनका दर्द बढ़ रहा है। हरबंस सिंह ने कहा कि बड़े डॉक्टरों को इसका प्रबंध करना चाहिए।

इस बाबत डॉ. सनमान से बात करने पर उन्होंने बताया है कि कई लोगों के ऑपरेशन करने बाकी है जिनका ऑपरेशन तुरंत करना जरुरी होता है उन्हें तो रेफर कर दिया जाता है जबकि कई वेटिंग में चल रहे है। उन्होंने कहा कि उन्होंने खुद इस बाबत स्वास्थ्य मंत्री के ध्यान में यह मामला लाया है व उम्मीद है जल्द हल हो जाएगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here