इंसानियत। मदद की पुकार सुनते ही हर जगह पहुंच जाते हैं डेरा अनुयायी

0
450
Welfare-Work

चंद घंटों में सेवादारों ने अपने खर्च पर बनाकर दिया पक्का मकान

(Welfare Work)

  • ये दूसरों के दर्द को समझते हैं अपना

  • जिला कैथल के ब्लॉक चीका मंडी की साध-संगत ने बांटा विधवा महिला का दर्द

चीका मंडी (सच कहूँ न्यूज)। जब अपनों पर दु:खों का पहाड़ टूटता है तो रिश्तेदार और परिवार भी एक पल के लिए साथ छोड़ जाते हैं। ऐसे में वो इंसान ये ही सोचेगा कि जब अपनों ने ही मदद के लिए हाथ नहीं बढ़ाया तो कोई गैर क्या उसकी मदद करेगा? ऐसे में सिर्फ डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी ही हैं जो दूसरों के लिए जीते हैं। बस मदद की एक पुकार मिलनी चाहिए और डेरा श्रद्धालु पलभर में फरिश्तें बनकर मदद को पहुंच जाते हैं।

जिला कैथल के ब्लॉक चीका मंडी की साध-संगत ने भी एक विधवा महिला के दर्द पर मदद का मरहम लगाते हुए उसके आंसूओं को पोंछने का काम किया। ऊषा देवी पत्नी स्वर्गीय तरसेम सिंह निवासी गांव खरौदी की आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण व बिना छत के गुजारा कर रही थी। इस बात का ब्लॉक चीका मंडी के जिम्मेवारों व डेरा अनुयायियों को पता चला तो ब्लॉक की साध-संगत ने आर्थिक मदद करने की ठानी और चंद घटों में पक्का मकान बनाकर महिला को सौंप दिया।

नामचर्चा घर में जिम्मेवारों ने सौंपी मकान की चाबी

हरियाणा के 45 मैंबर कमेटी के सदस्य राजेन्द्र इन्सां, 15 मैंबर सतपाल इन्सां, 45 मैंबर दारा सिंह इन्सां ने बताया कि विधवा महिला मकान बनाने की आग्रह किया था, जिस पर ब्लॉक की साध-संगत ने महिला की मदद करने की ठानी। जिसके बाद सेवादार सतीश पूंडरी, ब्लॉक भंगीदास सुरेश इन्सां, अमर इन्सां, सतीश इन्सां, बंतराम इन्सां, जिम्मेवार यशवंत इन्सां, शाह सतनाम जी ग्रीन एस वेल्फेयर फोर्स विंग के जिम्मेवार कैप्टन बलबीर सिंह इन्सां, बहन रेनू इन्सां व अन्य साध-संगत के सहयोग से विधवा महिला को नामचर्चा घर में नए मकान की चाबी सौंप दी।

आँखों से झलके खुशी के आंसू, पूज्य गुरु जी का जताया आभार

डेरा अनुयायियों की मदद मिलने से ऊषा देवी के आँखों से खुशी के आंसू नहीं थम रहे थे। ऊषा देवी ने कहा कि मैं पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां का जितना धन्यवाद करूं कम है। साध-संगत ने उसे नया मकान देकर उसकी सभी मुश्किलों से छुटकारा ही नहीं दिलाया बल्कि आज ये साबित कर दिया है जब तक इस समाज में डेरा सच्चा सौदा के अनुयायी हैं, कोई बेघर नहीं हो सकता।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।