नोहर में बेखौफ बदमाश, भय के साये में जनता

0
355
Fearless-Crook-in-Nohar

लगातार हो रही वारदातों से पुलिस कार्यप्रणाली से उठा आमजन का भरोसा

(सच कहूँ न्यूज)/रोहताश कुमार नोहर। इलाके में लगातार बिगड़ रही कानून व्यवस्था से आमआदमी में भय का माहौल है, लेकिन पुलिस पीड़ित की सुनने की बजाया सांप निकलने के बाद लकीर पीटने का काम कर रही है। शहर में आए दिन लूटपाल, चोरी, मारपीट, फायरिंग जैसी गंभीर वारदातें हो रही है। इससे नागरिकों में भय का वातावरण है। लगातार सामने आ रही वारदातों से तो पुलिस का स्लोगन ‘आमजन में विश्वास, अपराधियों में भयझ् उल्टा होता नजर आता है। वर्तमान में नोहर में कानून व्यवस्था की स्थिति आमजन में भय, अपराधियों में विश्वास की सी हो गई है। बेखौफ अपराधी जब चाहें वो वारदात कर सकते हैं।

बिगड़ती कानून व्यवस्था को लेकर शासन और प्रशासन दोनों मौन है। ऐसे में विपक्ष का दायित्व और बढ़ जाता है कि वे सत्ता का ध्यान आकर्षित करने के लिए आंदोलन की राह अपनाएं। लेकिन यहां विपक्ष भी मुट्ठीभर कार्यकर्ताओं के साथ अधिकारियों को ज्ञापन देनें तक सीमित नजर आ रहा है। अधिकारी पहले ही जता चुके हैं कि जनता सचेत रहें। यानि जनता अपनी सुरक्षा स्वयं करें। ऐसे में आमजन किससे अपने जान-माल की रक्षा की गुहार लगाए। इस माहौल से तो यही प्रतीत होता है कि जनता अब खुद मोर्चा संभालते हुए सड़कों पर उतरना पड़ेगा। और जब जनता ये करेगी तो शासन और प्रशासन के साथ-साथ जनता के नाम पर राजनीतिक रोटियां सेकने वालों की भी दोबारा सोचना पड़ेगा की वो किसके लिए काम कर करने का दम भर रहे हैं।

एक पखवाड़े में हुई वारदातें

बीते एक पखवाड़े में मंदिरों से चोरी, मेघाना गांव के पास बाइक सवार दंपत्ति से लूटपाट, गौरवपथ पर दो गुटों में फायरिंग, वार्ड़ 23 में घर में घुसकर महिला और नौकर को बंधक बनाकर दिन दहाड़े लूटपाट, स्टेडियम के आगे से बाइक चोरी, शिवाजी बस स्टैंड से यात्री के 33 हजार रुपए पार और भगतसिंह चौक पर गुरुवार शाम को हुए बवाल से कानून व्यवस्था की पोल खुलती नजर आ रही है। इसके अलावा अवैध शराब और नशे का फलता-फूलता गोरखधंधा तो किसी से छुपा हुआ ही नहीं है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramlink din , YouTube  पर फॉलो करें।