हरियाणा में अब स्वास्थय विभाग बनाएगा यूनिक दिव्यांगता प्रमाण पत्र

Hundred, Programs, Skill, Development

भिवानी (इन्द्रवेश)। हरियाणा में अब यूनिक दिव्यांगता प्रमाण पत्र बनेंगे। जिसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने अब सर्टिफिकेट बनाने भी शुरू कर दिए है। उन्हें यूनिक आईडी का नाम दिया गया है। ये प्रमाण पत्र होने पर ही हरियाणा सरकार द्वारा दिए जाने वाले लाभ ही दिव्यांगों को मिलेंगे। हर उस व्यक्ति को जो दिव्यांग है उसे स्वाथ्य विभाग द्वारा बनाये जा रहे प्रमाण पत्र बनवाने होंगे। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग विशेष तौर पर मेले भी लगाएगा। हरियाणा सरकार ने आदेश जारी कर स्वास्थ्य विभाग को दिशा निर्देश जारी किए है। उसमें कहा गया है कि जो व्यक्ति दिव्यांग है उसकी दिव्यांगता का प्रमाण पत्र देखते हुए उसकी यूनिक आईडी बनानी है। जिससे उसकी आईडी बनने के बाद सरकार उसे मिलने वाली योजना का लाभ उसे देगी। इससे सरकार को उसकी विकलांगता का प्रमाण भी मिलेगा। यहां यह भी है कि काफी संख्या में दिव्यांग व्यक्तियों ने फर्जी तरीके से प्रमाण पत्र बनवाये हुए है।

प्रमाण पत्र नहीं होगा तो नही मिलेगा कोई लाभ

जिसकी बार-बार शिकायत भी सरकार तक पहुंचती है। सरकार अब इसमें पारदर्शीता लाना चाहती है। इसके लिए सरकार ने प्रमाण पत्र बनाने के साथ-साथ आईडी बनाने की बात भी कही है। आईडी से पूरी जानकारी सरकार के पास भी होगी। यहां यह भी है कि आईडी बनवाने के लिए स्वयं दिव्यांग व्यक्ति को बोर्ड के सामने जाना होगा। बोर्ड उसका निर्धारित सर्टिफिकेट देखकर रिव्यु भी कर लेगा और यूनिक आईडी भी बना देगा। भिवानी के मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ. रघुवीर शांडिल्य ने बताया की यह यूनीक आईडी सभी दिव्यांग व्यक्तियों को बनवानी होगी। इसके बाद सभी लाभ उसे मिलते रहेंगे, लेकिन जो नही बनवाएगा उसके सभी लाभों पर सरकार रोक लगा देगी। उसमें दिव्यांग पेंशन हो या फिर यात्रा हो या फिर दिव्यांग सरकारी कर्मचारी। कर्मचारी के भी सभी बेनिफिट सरकार रोक देगी। वही दिव्यांगों ने सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है। उन्होंने बताया कि सरकार से वे भी कई बार दरख्वास्त दे चुके है कि ये आईडी आॅनलाइन हो।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और TwitterInstagramLinkedIn , YouTube  पर फॉलो करें।